किसान आंदोलन:सरकार चुनावी रैली रोके, हम भी महापंचायत रोक देंगे: राकेश टिकैत

भिवानी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रेमनगर में किसान महापंचायत काे संबाेधित करते भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत। - Dainik Bhaskar
प्रेमनगर में किसान महापंचायत काे संबाेधित करते भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत।
  • प्रेमनगर ने सरकार को जमीन दी थी, यहीं बनना चाहिए मेडिकल कॉलेज: चढूनी

किसान नेता राकेश टिकैत व गुरनाम चढूनी ने कोरोना व किसान आंदोलन को लेकर कहा कि किसान न कोरोना से डरता और न धारा 144 से। किसान अपनी जीत होने तक आंदोलन करेगा, चाहे महीने लगें या साल। किसान नेता आज प्रेम नगर में मेडिकल कॉलेज निर्माण को लेकर किसान महापंचायत को संबोधित कर रहे थे।

बता दें कि प्रदेश में कोरोना महामारी के चलते धारा 144 लागू है। महापंचायत में राजेवाल व युद्धवीर सहित कई किसान नेता व हरियाणवी गायक अजय हुड्डा पहुंचे। इस दौराने यहां आने वाले लोगों को मास्क दिए व सैनिटाइज किया गया। पर दिनभर चली तेज हवाओं के बीच राकेश टिकैत ने कोरोना व धारा 144 पर कहा कि भाजपा सरकारी पंचायत बंद कर दे हम भी किसान महापंचायत नहीं करेंगे।

टिकैत ने कहा कि नवंबर या दिसंबर तक सरकार से वार्ता होने की उम्मीद है। हम वार्ता के लिए तैयार हैं पर शर्त के साथ। क्योंकि हम सरकार से भीख नहीं मांग रहे। टिकैत ने कहा कि देश की जनता इस सरकार व व्यवस्था से दुखी है, पर गुजरात के लोग सबसे दुखी हैं क्योंकि वहां खेती की जमीन अधिग्रहण कर कंपनियों को खेतीबाड़ी के लिए दी जा रही है।

किसान की हार हुई तो गुजरात का ये मॉडल पूरे देश में लागू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार कोई गाइडलाइन जारी कर दे, हम मोर्चे नहीं छोड़ेंगे। आजादी का आंदोलन 90 साल चला था, हमें तो पांच माह ही हुए हैं। साथ ही चुटकी ली और कहा कि राम मंदिर के लिए चंदा लेने से पहले एम्स के लिए चंदा लिया जाना चाहिए ताकि जरूरत पर लोगों का इलाज मिल सकता।

गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि प्रेमनगर की पंचायत ने मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन दी थी, इसलिए मेडिकल कॉलेज यहीं बनना चाहिए। उन्होंने कहा कि आंदोलन कर रहे 400 किसान शहीद हो चुके हैं, लेकिन परमात्मा के आशीर्वाद से एक भी किसान कोरोना से नहीं मरा।

उन्होंने कहा कि सरकार कह रही है कि कोरोना है तो कोरोना से बचाव के प्रबंध क्यों नहीं किए जा रहे। चढूनी ने कहा कि सरकार धारा 144 लगाए या 145, किसान जीत होने तक आंदोलन जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि आज लोग मर रहे हैं और ऑक्सीजन व इंजेक्शन की कालाबाजारी हो रही है। उन्होंने कहा कि लोगों की मौत व अव्यवस्था को लेकर भाजपा के खिलाफ मामला दर्ज होना चाहिए और कालाबाजारी करने वालों को जेल भेजना चाहिए।

खबरें और भी हैं...