4 से बरसात के आसार / एंटी साइक्लोन बनने से कमजोर पड़ा मानसून, लोकल क्लाउड फॉर्मेशन की संभावना से बढ़ेगी गर्मी

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

भिवानी. मानसून लगभग तय समय पर आने के बाद एक बार फिर कमजोर पड़ गया है। इसका कारण राजस्थान और पाकिस्तान के बीच में एक नया एंटी साइक्लोन बन रहा है और इससे दिल्ली-एनसीआर में बादलवाई के बाद भी बरसात नहीं हो पा रही है। हालांकि मानसून एक बार सक्रिय तो हो गया था, लेकिन उसके बाद कोई मजबूत सिस्टम डेवलप न होने की वजह से पिछले चार दिन से बारिश नहीं हुई है। इस वजह से अधिकतम पारा 40 डिग्री पहुंच गया है।

उमस भरी गर्मी के कारण दिन में 30.3 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम पारा दर्ज किया गया। जबकि रात के समय भी गर्मी बढ़ गई है। मौसम विशेषज्ञों की माने तो आगामी दाे दिन बादल छाए रह सकते हैं। इससे अधिकतम तापमान 42 और न्यूनतम तापमान 32 डिग्री रह सकता है। बुधवार को तापमान बढ़ सकता है, जिससे लोकल क्लाउड फॉर्मेशन होने की संभावना है। ऐसे में गर्मी और बढ़ेगी। गुरुवार काे भी लगभग ऐसा ही माैसम रहने की संभावना है।

अगले 48 घंटे के भीतर गर्मी से मिल सकती है राहत
दक्षिणी पश्चिमी हवाओं की वजह से नमी की मात्रा भी 43 फीसदी पहुंचने से गर्मी ने लोगों को परेशान किया हुआ है। मौसम विशेषज्ञों की मानें तो मानसून तो आ गया है, लेकिन उसके बाद ऐसा कोई मजबूत वेदर सिस्टम डेवलप नहीं हुआ है, जिसकी वजह से लगातार बारिश का दौर जारी रहे। अब जो नमी बनी हुई है, उसकी वजह से लोकल क्लाउड फॉर्मेशन से अगले 48 घंटे के भीतर गर्मी से राहत मिल सकती है।

परिवर्तनशील रहेगा मौसम
चौ. चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार के कृषि मौसम विज्ञान विभाग अध्यक्ष डॉ. एमएल खीचड़ के अनुसार मानसूनी टर्फ रेखा 27 जून से हिमालय व उत्तर पूर्व भारत की तरफ बढ़ गई है। इसके चलते हरियाणा राज्य में मानसूनी हवाएं कुछ कमजोर हुई हैं। इससे मौसम आमतौर पर परिवर्तनशील व बीच-बीच में आंशिक बादल तथा राज्य में कुछेक स्थानों पर बूंदाबांदी या हल्की बारिश संभावित है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना