पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोविड-19 अपडेट:होम आइसोलेट मरीजों को अब घर पर ही उपलब्ध होगी ऑक्सीजन, पहले ऑनलाइन करवाना होगा रजिस्ट्रेशन

भिवानीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भिवानी। वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जिला अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ. अमित अग्रवाल। - Dainik Bhaskar
भिवानी। वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जिला अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ. अमित अग्रवाल।
  • मोबाइल नंबर पर एक सिलेंडर का ही होगा पंजीकरण, रेडक्रॉस सोसायटी के स्वयंसेवी आप तक पहुंचाएंगे प्राणवायु

होम आइसोलेट कोविड मरीजों के लिए अब उनके परिजनों को ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे और न ही अधिकारियों व ऑक्सीजन एजेंसी पर बार बार जाने की जरूरत होगी। सरकार अब कोविड-19 के मरीजों के लिए घर पर ही ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

जिला रेडक्रास सोसायटी के वॉलंटियर जरूरतमंद व्यक्ति के घर द्वार पर ऑक्सीजन सिलेंडर की सप्लाई करेंगे। मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव व सूचना एवं जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डॉ. अमित अग्रवाल ने बताया कि कोविड-19 के रोगियों को उनके घर द्वार पर ही ऑक्सीजन की सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की जाएगी। वह शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से जिला अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा एक फॉर्मेट तैयार किया गया है जिसके माध्यम से जरूरतमंद व्यक्ति ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे। जिला प्रशासन एवं रेड क्रॉस-सोसाइटी संयुक्त रूप से इस कार्य को करेंगे। रजिस्ट्रेशन का कार्य जिला प्रशासन द्वारा अलाट की जाने वाली संस्थाएं करेंगी।

ये होगी ऑक्सीजन की प्रक्रिया : सबसे पहले संबंधित व्यक्ति की तरफ से ऑक्सीजन के लिए ऑन लाइन रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके बाद संबंधित संस्था द्वारा वॉलंटियर के माध्यम से ऑक्सीजन की सप्लाई की जाएगी। ऑक्सीजन वितरण सिस्टम में एक मोबाइल फोन के माध्यम से एक ऑक्सीजन सिलेंडर का ही पंजीकरण किया जा सकेगा। होम आइसोलेट होने वाले कोविड-19 के रोगी ही ऑक्सीजन के लिए पंजीकरण कर सकेंगे।

जिलाधीश ने की अपील
जिलाधीश राहुल नरवाल ने लोगों से अनुरोध किया है कि जिनके पास खाली सिलेंडर है वे जिला रेडक्रॉस सोसाइटी के कार्यालय में जमा करवा दें ताकि संकट की इस घड़ी में जरूरतमंद के पास ऑक्सीजन सिलेंडर की सप्लाई की जा सके। बैठक में नगराधीश हरबीर सिंह, नोडल अधिकारी दलजीत सिंह, जिला प्रशिक्षण अधिकारी विनोद कुमारी, जिला रेडक्रॉस सोसाइटी से सहायक जय भगवान आदि उपस्थित थे।

होम डिलिवरी पर निगरानी के लिए कमेटी गठित

  • जिलाधीश राहुल नरवाल ने कोविड-19 के दृष्टिगत विभिन्न विभागों के अधिकारियों की अलग-अलग कमेटी गठित की हैं कोविड-19 के रोगियों द्वारा निजी अस्पतालों में करवाए गए इलाज के बिलों का निरीक्षण करने के लिए जो कमेटी बनाई गई हैं उसमें हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के सचिव राजीव प्रसाद, डीईटीसी अनुपममा सिंह, लेखा अधिकारी ओमपाल सिहं तंवर तथा एसएमओ डॉ. रघुबीर शांडिलय को शामिल किया हैं।
  • ऑक्सीजन की आपूर्ति पर निगरानी रखने के लिए बनाई गई कमेटी में दलजीत सिहं, मनीष गुप्ता ईटीओ, नरेश महता, पवन कुमार, सुखपाल तथा सत्यप्रकाश वर्मा की ड्यूटी लगाई गई हैं।
  • जिलाधीश राहुल नरवाल ने हेल्पलाइन तथा ऑक्सीजन की होम डिलीवरी आदि सेवाओं पर निगरानी रखने के लिए दलजीत सिहं, पंकज बजाज, सत्यनारायण बंसल, जगदीश गुलिया तथा विकास जाखड़ को शामिल किया गया हैं। जारी आदेशानुसार दलजीत सिहं को स्थानीय चौ. बंसीलाल राजकीय अस्पताल प्रबंधन एवं समन्वय की जिम्मेदारी सौंपी गई हैं।
  • तहसीलदार रविंद्र कुमार तथा काडा के एसडीओ रोगियों के घरों में की जाने वाली ऑक्सीजन की सप्लाई प्रक्रिया और अप्रूवल के बारे में जिला प्रशासन को अवगत करवाने का कार्य करेंगे। कमेटी में जिला शिक्षा अधिकारी, पशु पालन विभाग के उपनिदेशक को भी शामिल किया गया है।
खबरें और भी हैं...