विरोध / डीजल और पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी किए जाने के खिलाफ एसयूसीआई ने किया प्रदर्शन

X

  • मोदी सरकार का फूंका पुतला, प्रदर्शनकारियों ने की बढ़े हुए दाम आधे करने की मांग

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

भिवानी. मोदी सरकार द्वारा डीजल-पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी किए जाने के खिलाफ साेमवार काे दिनोद गेट पर एसयूसीआई ने प्रदर्शन कर मोदी सरकार का पुतला फूंका।
पुतला दहन से पहले राज्य कमेटी के सदस्य सह जिला सचिव राजकुमार जांगड़ा ने बताया कि जब सारे संसार में कच्चे तेल के दाम जमीन पर हैं। तब मोदी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार हर रोज पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ा रही है।

उन्होंने बताया कि भारत को पेट्रोल-डीजल 20 रुपये प्रति लीटर से भी कम दाम में पड़ता है लेकिन केन्द्र व राज्य सरकारें उस पर 270 फीसदी एक्साइज ड्यूटी व वैट लगाती है जिससे उनका मूल्य 80 रुपये प्रति लीटर के पार चला गया है। उन्होंने कहा कि जब भाजपा विपक्ष में थी तब पेट्रोल- डीजल मूल्यवृद्धि के खिलाफ रोज चिल्लाती थी और तेल के दाम घटाने की मांग करती थी। एक तरफ देशभर में कोरोना महामारी जीवन अस्तव्यस्त है।

ऐसी विकट परिस्थितियों में राज्य व केंद्र सरकार को आम जनता को राहत देनी चाहिए थी। प्रदर्शनकारियों ने मांग की कि पेट्रोल-डीजल के दाम आधे किए जाएं। इस अवसर पर राजकुमार जांगड़ा, राजकुमार बासिया, राजबाला, रविन्द्र पूनिया, नत्थूराम, प्रदीप, पवन, विनोद, निर्मला, दिनेश आदि माैजूद थे।

कांग्रेसियाें ने दिया धरना, बोले- कच्चा तेल सस्ता, पर डीजल-पेट्रोल के दाम आसमान पर
भिवानी| अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में लगातार गिरावट के बाद डीजल व पेट्रोल के दामों में लगातार बढ़ाेतरी के विरोध में कांग्रेसियों ने साेमवार काे जुलूस निकालकर लघु सचिवालय कार्यालय के बाहर धरना दिया व नारेबाजी की।  प्रदर्शनकारियों का तर्क था कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें लगातार कम होने के बाद भी आए दिन तेल के कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है। बढ़ती तेल की कीमतों के चलते वाहन चालक व किसान खेती से तौबा करने पर मजबूर हो गए हैं।

इस मौके पर कांग्रेसियों ने डीसी को ज्ञापन भी सौंपा। कांग्रेस के भिवानी ब्लाॅक कॉर्डिनेटर देवराज मेहता की अगुवाई में प्रदर्शनकारी डीसी कार्यालय के बाहर पहुंचे। प्रदर्शनकारियों ने सरकार की जनविरोधी नीतियों व बढ़ रहे तेल के दामों के विरोध में नारेबाजी की। महता ने कहा कि कच्चा तेल सस्ता होने के बावजूद सरकार रेट बढ़ाती जा रही है। पंचायती राज प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष कृष्ण लेघां  व अमरसिंह हलवासिया ने कहा कि कांग्रेस के समय पेट्रोल व डीजल पर एक्साइज ड्यूटी कम थी, लेकिन बीजेपी सरकार ने इसे बहुत ज्यादा बढ़ाकर इनके के दाम महंगे कर दिए।

 उन्होंने चेतावनी दी कि तेल की कीमतों को कम नहीं किया तो अनिश्चितकालीन आंंदाेलन चलाने पर मजबूर होंगे। इस अवसर पर हरिसिंह सांगवान, शीश राम चेयरमैन, रविंद्र खरे प्रधान, अशोक ढोला, शक्ति सिंह, दरिया सिंह एडवोकेट, डॉ. पवन शर्मा, मुकेश पहाड़ी, नवीन धमीजा, राजीव श्योराण एडवोकेट आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना