पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

नवरात्र विशेष:देवसर माता मंदिर के बंद रहेंगे कपाट, भोजावाली देवी के होंगे दर्शन, एक बार में 20 श्रद्धालुओं का ही होगा प्रवेश

भिवानी3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भिवानी। नया बाजार स्थित भाेजावाली माता मंदिर में अाराधना करते ईश्वर शर्मा।
  • मास्क पहने श्राद्धालुओं को ही मिलेगा प्रवेश, कोई ऐसा कार्यक्रम नहीं जिससे भीड़ बढ़े

कोरोना काल के बीच सरकार की गाइडलाइन के बाद धार्मिक कार्यक्रमों गतिविधियां शुरू होने लगी हैं। हालांकि इन गतिविधियों को फिलहाल आंशिक रूप से शुरू किया जा रहा है। नवरात्र की बात करें तो शहर के बीचाे बीच स्थित भाेजावाली देवी मंदिर में नवरात्र में काेराेना संक्रमण से बचाव के उपायाें काे अपनाते हुए श्रद्धालु डिस्टेंस के साथ माता के दर्शन कर सकेंगे। ऐसे कार्यक्रम नहीं किए जाएंगे जिससे भीड़ एकत्र हो व संक्रमण का खतरा बढ़े। सोशल डिस्टेंस, मास्क व सेनिटाइजेशन के नियमों का पालन करते हुए नवरात्र पर्व मनाया जाएगा। दूसरी ओर देवसर माता मंदिर के कपाट संक्रमण को देखते हुए श्रद्धालुओं के लिए बंद रहेंगे।

कोविड-19 नियमों की करनी होगी पालना

नवरात्र पर्व पर भोजावाली माता मंदिर में श्रद्धालु सोशल डिस्टेंस व कोविड-19 के नियमों की पालना के साथ माता के दर्शनों का लाभ ले सकेंगे। पुजारी ईश्वर शर्मा ने बताया कि मंदिर में श्रद्धालुओं को हैंड सैनिटाइज कराके एंट्री दी जाएगी। परिसर में भीड़ न हो इसलिए 15 से 20 भक्तों को एक बार में प्रवेश कराया जाएगा। उन्होंने सभी श्रद्धालुओं से आह्वान किया कि मंदिर में आने वाले श्रद्धालु मुंह पर मास्क लगाकर ही मंदिर में प्रवेश करें। उन्होंने बताया कि मंदिर में दोनों समय साफ-सफाई पर पूरा ध्यान दिया जाएगा। श्रद्धालुओं के लिए मंदिर में आने-जाने के लिए बैरिकेडिंग की जाएगी ताकि श्रद्धालुओं के बीच सोशल डिस्टेंस बना रहे।

आज से शुरू हाेंगे नवरात्र

शारदीय नवरात्र आश्विन माह में आते हैं। नवरात्र आज से शुरू हो रहे हैं। जोगीवाला शिव मंदिर के महंत वेदनाथ महाराज ने बताया कि नवरात्र में मां दुर्गा के 9 रूपों की पूजा होगी। नवरात्र की शुरूआत घट स्थापना से की जाती है। इस बार अधिक मास के कारण 17 अक्टूबर से शारदीय नवरात्र शुरू हो रहे हैं। 24 अक्टूबर को सुबह 6 बजकर 57 मिनट तक अष्टमी है और उसके बाद नवमी तिथि शुरू हो जाएगी अर्थात दो तिथियां एक ही दिन आ रही है, इसलिए अष्टमी और नवमी की पूजा एक ही दिन होगी।

ये हैं विशेष संयोग

नवरात्र में तिथि, वार और नक्षत्रों के संयोग से लगभग हर दिन खरीददारी के लिए शुभ मुहूर्त बन रहा है। इन दिनों में सर्वार्थसिद्धि, त्रिपुष्कर और रवियोग में नए कामों की शुरूआत करना, वाहन, संपत्ति, आभूषण, कपड़े, बर्तन और इलेक्ट्रॉनिक चीजों की खरीदारी करना श्रेष्ठ माना गया है। 17 अक्टूबर- सर्वार्थसिद्धि योग 18 अक्टूबर- त्रिपुष्कर योग 19 अक्टूबर- सर्वार्थसिद्धि योग, रवियोग 21 अक्टूबर- रवियोग 24 अक्टूबर- सर्वार्थसिद्धि योग 25 अक्टूबर- रवियोग है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें