वेदर अलर्ट:आज रात से कल तक आंधी के साथ बूंदाबांदी के आसार, छह मई तक परिवर्तनशील रहेगा मौसम

भिवानी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दोपहर तीन बजे बाद आसमान में छाए बादल। - Dainik Bhaskar
दोपहर तीन बजे बाद आसमान में छाए बादल।
  • हल्की गति से उत्तर पश्चिमी, पश्चिमी हवाएं चलने से बढ़ रहा तापमान

माैसम शुष्क हाेने के साथ ही गर्मी बढ़ती जा रही है। राजस्थान पर बने साइक्लोनिक सर्कुलेशन के कारण बुधवार दोपहर बाद से मौसम में बदलाव आया। इससे गुरुवार सुबह, दिन और शाम के समय कई बार बादल छाए। मौसम विभाग के अनुसार 30 अप्रैल और 1 मई काे बूंदाबांदी की संभावना है लेकिन इससे ज्यादा राहत नहीं मिल सकेगी।

बता दें कि पश्चिमी विक्षोभ के गुजरने के बाद दिन और रात का तापमान बढ़ना शुरू हाे गया था। मौसम विज्ञानिकाें की मानें ताे पिछले 5 दिन से हल्की गति से उत्तर पश्चिमी, पश्चिमी हवाएं चलने से तापमान में लगातार बढ़ोतरी दर्ज हुई है। गुरुवार काे दिन का अधिकतम तापमान 41.0 डिग्री पहुंच गया। वहीं न्यूनतम तापमान भी 24.3 डिग्री तक आ गया है। दिन में 18 किमी की रफ्तार से हवाएं चलीं।

मौसम आधारित कृषि सलाह

1. इस सप्ताह मौसम में लगातार बदलाव की संभावना को देखते हुए गेहूं की कटाई व कढ़ाई जल्दी पूरी कर सुरक्षित स्थानों पर रखें। 2. गेहूं की कटी हुई फसल के बंडल अच्छी प्रकार से बांधे ताकि तेज हवा चलने से उड़ें नहीं। 3. गेहूं के भूसे/तूड़ी को सुरक्षित स्थानों पर रखे या अच्छी प्रकार से ढके ताकि तेज हवा चलने से तूड़ी उड़ न पाएं। 4. गेहूं मंडी में ले जाते समय तिरपाल साथ अवश्य रखें। 5. हल्की बारिश की संभावना को देखते हुए नरमा की बिजाई के लिए तैयार खेत में नमी संचित रखे।

4 से 6 मई तक बारिश की संभावना

एचएयू के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के अध्यक्ष डाॅ. एमएल खीचड़ के अनुसार अगले एक सप्ताह तक लगातार दो पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से राजस्थान के ऊपर एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बनने की संभावना है। ऐसे में राज्य में मौसम छह मई तक आमतौर पर परिवर्तनशील रहने की संभावना रहेगी।

बीच-बीच में मध्यम से तेज गति से धूलभरी हवाएं चलने व आंशिक बादल छाए रह सकते हैं। 30 अप्रैल रात्रि व 1 मई को कहीं-कहीं धूलभरी हवाओं के साथ बूंदाबांदी हाे सकती है। परन्तु 4 से 6 मई के बीच राज्य के ज्यादातर क्षेत्रों में हवाओं व गरज चमक के साथ हल्की बारिश होने की भी संभावना है।

खबरें और भी हैं...