पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उत्सव:दशमी पर लगा बाबा रामदेव का मेला, रामसरा में 5 किमी लंबी डाक ध्वजा चढ़ाई, दंगल में पहलवानों ने दिखाया दम

भूना9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कुश्ती दंगल में भाग लेते चंडीगढ़ व हासंगा के पहलवान। - Dainik Bhaskar
कुश्ती दंगल में भाग लेते चंडीगढ़ व हासंगा के पहलवान।
  • मेले में लगी स्टॉलों पर खरीदारों की रही भीड़, मेलों में कहीं भी लोगों ने नहीं पहने मास्क, कोरोना को लेकर दिखी लापरवाही
  • फतेहाबाद के गांव बड़ोपल, भोडियाखेड़ा में मेले लगे, जिले में कई जगहों पर हुए दंगल

दशमी उत्सव पर सोमवार को बाबा रामदेव के मंदिरों पर मेलों का आयोजन किया गया। जिले भर में दर्जन भर जगहों पर लगे मेले में लोगों ने शिरकत की व बाबा रामदेव के मंदिरों में माथा टेक मन्नतें मांगी। इस दौरान फतेहाबाद के गांव बड़ोपल, भोडियाखेड़ा में मेले लगे। कई जगहों पर कबड्डी खेल मेला भी कराया गया।

मेले के दौरान खाने पीने की चीजों व खिलौनों की स्टॉल लगाई गई, जहां से लोगों ने खूब खरीददारी रही। हालांकि कोरोना को लेकर कहीं भी लोगों में डर नहीं दिखा। दो गज की दूरी तो बहुत दूर की बात रही, एक प्रतिशत लोगों ने भी मास्क नहीं पहना हुआ था। मेले को लेकर बच्चों से लेकर बड़ों तक में काफी उत्साह इस दौरान देखने को मिला।

मंदिराें में की सजावट, भक्तों ने लगाई सवामणि

गांव धौलू व हसंगा तथा भूथनकलां में स्थित पीर बाबा रामदेव जी के भव्य मंदिर में दशमी उत्सव सोमवार को बड़े ही श्रद्धा पूर्वक धूमधाम से मनाया गया। गांव धौलू में अल सुबह से ही बाबा के दर्शनार्थ मंदिर परिसर में हजारों श्रद्धालुओं का ताता लगा रहा।

सुबह चार बजे से बाबा का श्रृंगार, बाबा मंदिर की सजावट, पूजा-अर्चना ,अखंड ज्योत के बाद स्थानीय एवं बाहर से आये विभिन्न भजन मंडलियों द्वारा भजनों का रंगारंग कार्यक्रम दिनभर जारी रहा। गायकों द्वारा गाए भजनों पर श्रद्धालु झूमने पर मजबूर हो गए। पूर्व सरपंच राधेश्याम ने बताया कि आज के दिन भक्तों द्वारा दर्जनों सवामणि प्रसाद का भोग लगाया गया।

कुश्ती मेें हासंगा का सोनू बना विजेता
मेले के समापन के दौरान राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय धौलू के खेल मैदान में कुश्ती दंगल हुआ। जिसमें हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, राजस्थान और दिल्ली के पहलवानों के बीच कड़े मुकाबले देखने को मिले। मेले में हासंगा के पहलवान सोनू सिहाग ने चंडीगढ़ के राजू पहलवान को पछाड़कर 11000 की झंडी जीतकर फतह हासिल की।

उपविजेता पहलवान राजू को 5100 रुपए का पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर सरपंच संतोष महार, दलीप सिंह रणवा, संदीप कुमार ख्यालिया, किनती कुमार, कृष्ण कुमार धारनियां, जिले सिंह, कृष्ण कुमार, रामनिवास, रमेश कुमार महार, रामकुमार आदि मौजूद थे।

रुणेचा धाम से लाई डाक ध्वजा चढ़ाई
भट्टूकलां | क्षेत्र के विभिन्न गांवों में बाबा रामदेव का जागरण, भंडारा व मेले का आयोजन किया गया। गांव रामसरा, शेखुपुर दड़ौली, सूलीखेड़ा, भट्टूमंडी, भट्टू गांव के अलावा आसपास के गांवों के श्रद्धालुओं ने बाबा रामदेव की पूजा अर्चना की । मेले में विभिन्न प्रकार की स्टालें लगाई गई। इस मेले में मनिहारी, मिठाइयां व नमकीन पकवानों की स्टालें मुख्य आकर्षण का केंद्र रही।

मेले में दंगल का आयोजन भी किया गया। जिसमें क्षेत्र व दूर दराज में पहलवानों ने भाग लिया। इस दौरान बाबा रामदेव मंदिर में विभिन्न भक्ति गायकारों ने बाबा रामदेव की महिमा का गुणगान किया। गायक कलाकारों के भजन घणी- घणी खम्मा।

मैं तो माहरे बाबा न रिझावण आया हा व घोड़े चढ़ के आज्या के भजनों पर श्रद्धालु झूमे। पुजारी बाबू लाल ने बताया कि मन्दिर में भंडारा लगाया गया व 5 किलोमीटर लंबी डाक ध्वजा रुणेचा धाम से 48 घंटे में 560 किलोमीटर दूरी तय कर गांव रामसरा के बाबा रामदेव मंदिर में चढ़ाई गई है।

हवन में श्रद्धालुओं ने डाली आहुतियां

बलियाला | गांव भरपूर स्थित बाबा रामदेव जी के मंदिर में सोमवार को वार्षिक मेले का आयोजन किया गया। मेले में अनेक गांवों से पहुंचे श्रद्धालुओं ने बाबा रामदेव जी के मंदिर में माथा टेककर अपनी मन्नतें मांगी। मेले के दौरान दुकानदारों द्वारा अनेक वस्तुओं की दुकानें सजा रखी थी।

बाबा रामदेव मंदिर के पुजारी धर्मवीर जांगड़ा ने बताया कि बाबा रामदेव के मंदिर में पिछले वर्षों से समस्त गांववासियों के सहयोग से मेले का आयोजन किया जाता है जिसमें हजारों श्रद्धालु पहुंचकर माथा टेकते हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें