पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समस्या:सॉफ्टवेयर में डाटा सही दर्ज नहीं होने से 10 महीने से भूना में नहीं हुई एक भी रजिस्ट्री

भूना24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भूना का उप तहसील कार्यालय। - Dainik Bhaskar
भूना का उप तहसील कार्यालय।
  • नगर पालिका और जिला नगर योजना विभाग का रिकॉर्ड अलग-अलग होने से भी हो रही परेशानी

सरकार ने प्रॉपर्टी की रजिस्ट्रियों में भ्रष्टाचार रोकने और अवैध कॉलोनाइजर्स पर लगाम लगाने के लिए लागू किया ऑनलाइन सिस्टम भूना वासियों के लिए समस्या बन गया है। पिछले दस महीने में भूना एरिया की एक भी रजिस्ट्री नहीं हाे पाई है। जिसका कारण नगर पालिका व जिला नगर योजना विभाग का रिकॉर्ड अलग-अलग होना है।

इस सिस्टम के तहत रजिस्ट्री के लिए विभागों की एनओसी का सिस्टम लागू किया हुआ है। लेकिन इन विभागों का रिकॉर्ड आपस में मैच न होने की वजह से सॉफ्टवेयर में रजिस्ट्री नहीं हो पा रही है। इस बारे में एडवोकेट गोपाल सरदाना, नरेंद्र सिवाच, वजीर सिंह, राजेंद्र सिंह आदि का कहना है कि नये सॉफ्टवेयर के बाद रजिस्ट्री करवाने को लेकर लोगों के सामने काफी समस्याएं आ रही हैं। भूना की दस महीने में एक भी रजिस्ट्री नहीं हुई है।

सॉफ्टवेयर में भूना का डाटा ही दर्ज नहीं है। लोगों की प्रॉपर्टी आईडी, उनके आधार कार्ड, प्लॉट साइज, सम्पत्ति मालिक के नाम आदि मैच नहीं हो रहे हैं। इसके कारण रजिस्ट्री के लिए ऑनलाइन टोकन नहीं निकल रहे हैं। वकील गोपाल सरदाना के अनुसार जब तक विभागों का आपस का रिकॉर्ड मैच नहीं करेगा तब तक नया सिस्टम कारगर नहीं हो सकता।

सॉफ्टवेयर में भूना का नहीं है नाम

नायब तहसीलदार विकास कुमार ने बताया कि सॉफ्टवेयर में भूना का रिकॉर्ड दर्ज नहीं है। इसलिए नगर पालिका व नगर योजनाकार विभाग को इससे संबंधित डाटा ऑनलाइन करवाना होता है। जो अधूरा है इसलिए भूना रकबा की रजिस्ट्री नहीं हो पा रही है।

खबरें और भी हैं...