प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर जताया रोष:आंगनबाड़ी वर्कर्स ने मांगों को लेकर डीसी के नाम सौंपा ज्ञापन

चरखी दादरी10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लघु सचिवालय परिसर में मांगों को लेकर नारेबाजी करती आंगनवाड़ी वर्कर्स। - Dainik Bhaskar
लघु सचिवालय परिसर में मांगों को लेकर नारेबाजी करती आंगनवाड़ी वर्कर्स।

आंगनबाडी वर्कर्स एंड हेल्पर यूनियन द्वारा दिया जा रहा धरना प्रदर्शन शुक्रवार को 38वें दिन में प्रवेश कर गया। उपायुक्त कार्यालय समक्ष धरना प्रदर्शन की अध्यक्षता चंद्रकलां ने की। संचालन रामौतारी ने किया। इस दौरान एसकेएस जिला प्रधान राजकुमार, आशा वर्कर राज्य उपप्रधान कमलेश व किसान सभा प्रधान रणधीर ने धरना स्थल पर पहुंच कर वर्कर्स व हैल्पर को समर्थन दिया गया। इसके उपरांत सभी ने उपायुक्त को जिला प्रधान सुनिता की अगुवाई में ज्ञापन सौंपते हुए बताया कि कुछ आंगनबाड़ी केंद्रो पर अधिकारियों द्वारा ताला तोड़ कार्रवाई की जा रही है।

ऐसी स्थिति में अगर इन सेंटरों से कोई सामान गुम होता है तो उसकी जिम्मेदारी प्रशासन व अधिकारियों की होगी क्योंकि वर्कर्स व हैल्पर तो पिछले 38 दिनों से हड़ताल पर है। जिला प्रधान ने बताया कि जो पिछले 5 माह बकाया वेतन था उसमें से कुछ का मिला है कुछ का बकाया है इसे जल्द दिलवाया जाए।

उन्होंने बताया कि हरियाणा सरकार के साथ 2018 में हुआ समझौता लागू करना, आंगनबाडी वर्कर्स व हैल्पर को कर्मचारी का दर्जा दिलाना, तब तक उच्चतम न्यायालय के निर्णयानुसार समान काम समान वेतन लागू करते हुए वर्कर्स को 24 हजार व हेल्पर 16 हजार देना, केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2018 में घोषित वर्कर्स को 1500 व हैल्पर को 750 बढ़ोत्तरी दिलवाना सहित अन्य कई मुद्दे लंबे समय से लंबित है। इस दौरान जिला सचिव अनिल श्योराण, सुलीन, अनिल, सरोज, कविता, इंद्रा, सरोज, बाला, गीता, सुनीता, अनिल, उषा आदि थे।

खबरें और भी हैं...