पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उपलब्धि:पैंतावास खुर्द निवासी अंकित सांगवान बना सेना में लेफ्टिनेंट

चरखी दादरी18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बचपन से घर में मिले सेना के अनुशासन का जिले के गांव पैंतावास खुर्द निवासी अंकित सांगवान पर इस कदर असर पड़ा कि अब जवानी की दहलीज पर कदम रखते ही उन्होंने देश सेवा का रास्ता चुन लिया।

परिजन भी अपने बेटे को देश सेवा के लिए फौज में अफसर बनाकर भेजने का गर्व कर रहे हैं। बता दें कि गांव पैंतावास खुर्द निवासी रिटायर्ड लेक्चरर दलबीर सिंह व माता डीपीई नीलम देवी का बेटा अंकित सांगवान का बचपन से भी सेना में अधिकारी बनने का रहा।

परिजनों ने भी बेटे के हौंसले को बढ़ाया और उनको सेना अधिकारी बनने के लिए जी-तोड़ मेहनत करवाई। अंकित ने सेना में कमीशन प्राप्त करते हुए नेवी में भर्ती हुआ है। अंकित के दादा पूर्व सरपंच ब्रह्म सिंह भी सेना में थे और देश सेवा करते हुए शहीद हो गए थे।

अंकित ने नेवी में लेफ्टिनेंट बनकर अपने घरवालों का मान बढ़ाया है। परिजनों सहित ग्रामीणों ने उनको आशीर्वाद दिया। दादा पूर्व सरपंच महेंद्र सिंह ने बताया कि अंकित ने अपनी मेहनत व लगन से सेना में अफसर बनकर जिले के अन्य युवाओं के समक्ष एक मिसाल पेश की है।

खबरें और भी हैं...