पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विरोध:भाजपा के प्रचार को निकलीं बबीता फौगाट का विरोध, गाड़ी के आगे लेटे किसान

चरखी दादरी22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गांव बिरही कलां में भाजपा नेत्री का विरोध करते किसान। - Dainik Bhaskar
गांव बिरही कलां में भाजपा नेत्री का विरोध करते किसान।
  • केंद्र सरकार के 7 साल पूरे होने पर ‘सेवा ही संगठन’ कार्यक्रम के तहत गांवों में पहुंचे थे भाजपाई
  • बबीता को बिरही कलां का कार्यक्रम रद्द करना पड़ा

भाजपा सरकार के 7 साल पूरे होने पर सेवा ही संगठन कार्यक्रम के तहत गांवों में पहुंच रहे भाजपा नेताओं का विरोध बढ़ता ही जा रहा है। भाजपा नेत्री एवं महिला विकास निगम चेयरपर्सन बबीता फौगाट, जिला अध्यक्ष सतेंद्र परमार और जिला प्रभारी कमल के काफिले का रविवार को गांव बिरही कलां में किसानों ने जोरदार विरोध हुआ।

बबीता को यहां पार्टी के नीतियों के साथ-साथ लोगों को ये बताना था कि कोरोना काल की संकट की घड़ी में भाजपा सरकार उनके साथ है। दो दिन पहले अटेला कलां में भाजपा के रक्तदान शिविर में पहुंचे भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह को भी गांव में लोगों ने खरी-खोटी सुनाई थी।

भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं का 10-12 गाड़ियों का काफिला रविवार को दोपहर में जैसे गांव बिरही कलां पहुंचा तो किसानों ने कन्नी प्रधान राजकरण कि अगुवाई में उनको काले झंडे दिखाए गए। किसान सड़क पर लेट गए इससे बबीता फौगाट की गाड़ी के आगे चल रही पुलिस की गाड़ी को भी रुकना पड़ा।

बड़ी संख्या में साथ चल रहे पुलिस बल ने बड़ी कशमकश के बाद रास्ता खुलवाया। विरोध के कारण बबीता फौगाट को अपना बिरही कलां गांव का कार्यक्रम रद्द करना पड़ा और वापस दादरी लौट गईं।

गांव तिवाला में भी थी घेरने की तैयारी

किसानों को बबीता फौगाट के आने की सूचना मिली, वो बिरही कलां अड्डे पर इकट्ठे हो गए। बबीता पुलिस सुरक्षा में तिवाला पहुंच गईं। किसान तिवाला आ गए। इसकी भनक मिलने पर बबीता फौगाट कच्चे रास्ते बरसाना होते हुए बिरही गांव की ओर निकलीं।

इतने में किसानों व बबीता फौगाट के काफिले का बिरही अड्डे पर आमना-सामना हो गया। पुलिस ने जबरदस्ती गाड़ी निकालनी चाही तो किसान सड़क पर लेट गए व काले झंडे लेकर नारेबाजी करने लगे। तभी जवानों ने मोर्चा संभाला और बबीता को वहां से निकाला।

सभी खापों ने की है बहिष्कार की घोषणा

किसानों का कहना है कि इलाके की सभी खापों ने भाजपा व जजपा नेताओं के बहिष्कार की घोषणा कर रखी है। जब तक तीनों काले रद्द नहीं होते, इनको गांव में नहीं घुसने देंगे। ये लोग भाईचारे को बिगाड़ने के लिए दौरे कर रहे हैं, जो सहन नहीं होंगे।

इस मौके पर बिरही पांच कन्नी प्रधान राजकरण, राजू मान, धर्मेंद्र, बबलू, चरण सिंह, पृथ्वी नंबरदार, पूर्व सरपंच रामफल, विनय सीटू, कमलेश, अमरपाल, इंद्र सिंह, विजय सिंह, ईश्वर, राजेश, राजेश, बलबीर, जोगेंद्र, सुनील, कुलदीप, बलवान, राजबाला, कृष्णा इत्यादि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...