JJP बैठक के विरोध में उतरे किसान:दिग्विजय चौटाला कार्यकर्ताओं की बैठक लेने पहुंचे दादरी, काले झंडों के साथ किसानों की नारेबाजी

चरखी दादरी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चरखी दादरी में दिग्विजय का विरोध करते किसान। - Dainik Bhaskar
चरखी दादरी में दिग्विजय का विरोध करते किसान।

हरियाणा के चरखी दादरी जिले में किसानों के विरोध के कारण जननायक जनता पार्टी (जजपा) की कार्यकर्ता बैठक को लेकर तनाव का माहौल है। जजपा महासचिव दिग्विजय चौटाला दादरी में कार्यकर्ताओं की बैठक लेने पहुंचे।

फौगाट खाप ने एक दिन पहले ही आगामी फैसले तक भाजपा-जजपा नेताओं के विरोध का ऐलान किया था। अगले ही दिन किसानों को सूचना मिली कि लोहारू रोड स्थित बैंक्वेट हॉल में जजपा की बैठक में दिग्विजय चौटाला पहुंच रहे हैं। सूचना पर वहां किसान जुटने शुरू हो गए। पुलिस ने कई स्थानों पर किसानों को रोकने का प्रयास किया, लेकिन वे बैठक स्थल के पास पहुंच गए। किसानों के हाथों में काले झंडे हैं और वे अपने सिर पर भी काले रंग की पट्‌टी बांधे हुए हैं।

दादरी में दिग्विजय का स्वागत करते कार्यकर्ता।
दादरी में दिग्विजय का स्वागत करते कार्यकर्ता।

पुलिस छावनी बना बैठक स्थल

दिग्विजय चौटाला दोपहर साढ़े 12 बजे के करीब कार्यकर्ताओं की बैठक में पहुंचे। उनकी गाड़ी को देखकर किसान काले झंडे लेकर खड़े हो गए और नारेबाजी शुरू कर दी। किसानों ने आगे आने का प्रयास किया तो पुलिस ने उन्हें रोक दिया। किसान कुछ दूर से ही उनके विरोध में नारेबाजी कर रहे हैं। बैठक स्थल के आसपास के क्षेत्र को सुबह से ही पुलिस छावनी में बदल दिया गया था। पुलिस किसानों को रोकने में लगी है। आसपास के और किसानों ने यहां पहुंचना शुरू कर दिया है। कार्यकर्ता बैठक का आयोजन 9 दिसंबर को झज्जर में हो रही जजपा की रैली को सफल बनाने के लिए हो रहा है। इसमें पार्टी नेताओं को भीड़ जुटाने के लिए जिम्मेदारी सौंपी जाएगी।

दादरी में जजपा की बैठक के विरोध में नारेबाजी करते किसान।
दादरी में जजपा की बैठक के विरोध में नारेबाजी करते किसान।

भिवानी मे बोले दिग्विजय-ऐसे लोग सच्चे हरियाणवी नहीं

दादरी से पहले जजपा नेता दिग्विजय चौटाला ने भिवानी में कार्यकर्ताओं से बैठक की। यहां उन्होंने कहा कि प्राइवेट सेक्टर में 75 फीसदी आरक्षण के खिलाफ जाने वाले लोग सच्चे हरियाणवी नहीं हो सकते। इन लोगों की मंशा ठीक नहीं, इनको किसी की राजनीतिक स्पोर्ट हो सकती है।

खबरें और भी हैं...