परिजनों ने उनकी अंतिम इच्छा को किया पूरा:सेवानिवृत्त आर्नरी लेफ्टिनेंट की देह काे पीजीआईएमएस रोहतक को दान दी

चरखी दादरी24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 30 साल सेना में थी सेवाएं

बौंद कलां निवासी दिवंगत सेवानिवृत्त ऑर्नरी लेफ्टिनेंट किरोड़ी मल शर्मा की अंतिम इच्छा अनुसार उनके परिजनों द्वारा उनके निधन के उपरांत उनकी मृत देह काे पीजीआईएमएस रोहतक को दान कर दिया है। गौरतलब है कि देश सेवा में करीब 30 साल सेना में सेवा देने के दौरान से ही किरोड़ी मल शर्मा द्वारा अक्सर यह इच्छा व्यक्त की जाती थी कि उनकी देह भी मरने के बाद राष्ट्र के काम आए। उनके परिजनों द्वारा उनकी इसी अंतिम इच्छा को पूरा किया गया है। उनके पुत्र फूड एंड सप्लाई विभाग में बतौर सब इंस्पेक्टर कार्यरत राजेश कुमार ने बताया कि उनके पिता आरंभ से ही देश सेवा के लिए जीवन जीते आए थे। सेवानिवृत्ति के उपरांत ही समाज सेवा के कार्यों में सहभागिता करते रहते थे। इसी सिलसिले में उनका मिलना शरीर व अंगदान करने के लिए प्रेरित करने वाली संस्था श्री विश्वकर्मा सेवक संघ संचालक साधुराम जांगड़ा से हुई थी। उनसे बातचीत के उपरांत उन्होंने निर्णय लिया था कि इस संस्था के माध्यम से देह दान करेंगे जिससे कि उनके निधन के उपरांत प्रशिक्षण ग्रहण करने वाले चिकित्सक अपने कार्य में निपुण होने के लिए उनका शरीर काम में ले सके। इसके लिए पीजीआईएमएस रोहतक को शरीर दान करने का संकल्प उन्होंने पहले ही ले लिया था। उनकी इच्छा अनुसार 1 नवंबर को उनके निधन के तुरंत बाद पीजीआईएमएस के चिकित्सकों द्वारा उनका मृत शरीर संस्थान में ले जाया गया है।

खबरें और भी हैं...