पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आरोप:किसानों का नहीं बिक रहा बाजरा, जिसका बिका उसे पेमेंट नहीं : सत्यवान शास्त्री

बाढड़ा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

किसानों को बर्बाद करने में प्रदेश की गठबंधन की सरकार कोई कसर नहीं छोड़ रही है। किसानों के साथ हर जगह दोगला व्यवहार किया जा रहा है। किसानों को उनकी फसल का 72 घंटे में पैसे देने का वायदा आज पूरी तरह से ढकोसला बन चुका है। ये बात आज इनेलो के वरिष्ठ नेता सत्यवान शास्त्री ने किसानों की समस्या सुनते हुए कही।

उन्होंने कहा कि आज मंडियों में 10 प्रतिशत किसानों का बाजरा बिक रहा है जिन किसानों का बाजरा बिक गया वे अब पैसे के लिए कभी बैंक तो कभी मंडी के चक्कर काट रहे हैं। एक तारीख से बाजरे की खरीद हुई थी लेकिन अब तक उन्हें पैसे नहीं आये है। यह हाल प्रदेश के उपमुख्यमंत्री की मां नैना चौटाला के हल्के बाढड़ा का है। दादरी और लोहारू मंडी में 200 टोकन तो बाढड़ा की बेरला मंडी में मात्र 10 टोकन जारी किए जा रहे है।

सरकार किसानों को दबाने और व्यापारियों को फायदा पहुंचाने का काम कर रही है। किसान अपनी फसल लेकर मंडी पहुंचता है तो नाम में थोड़ी बहुत गलती हो तो उसे ये कहते हुए वापिस भेज दिया जाता है कि पोर्टल उठा नहीं रहा। ये सिर्फ और सिर्फ किसानों को परेशान करने के काम है।

सरकार किसानों की इतनी ही हितैषी है तो ऑनलाइन में फाल्ट है तो जमीन किसान की है और 2-4 कर्मचारी लगाकर उसके कागज निकलवाकर पटवारी से वेरिफिकेशन करवाकर फसल खरीद सकते है लेकिन ये ऐसा करेंगे नहीं, क्योंकि मंडी में व्यापारियों का खरीदा हुआ बाजरा जो पहुंच रहा है। व्यापारियों के साथ मिलकर बाहर से आया हुआ बाजरा मंडी में बेचा जा रहा है। भिवानी-महेन्दगढ़ सांसद धर्मबीर बाढड़ा और लोहारू में घोषणा कर चुके है कि किसानों का दाना-दाना खरीदेगी, लेकिन उनकी घोषणा सिर्फ जूठी और लुभावनी ही रह गई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें