मांग पूरी न होने पर आंदोलन और होगा तेज:हरियाणा गर्व. पीडब्लूडी मैकेनिकल वर्कर्ज यूनियन कल करेगी प्रदर्शन

चरखी दादरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रमोशन के लिए आवश्यक 5 वर्ष के अनुभव की बजाए 3 वर्ष किया जाए

शनिवार को हरियाणा गर्व. पीडब्लूडी मैकेनिकल वर्कर्ज यूनियन जिला की बैठक जिला प्रधान जय प्रकाश पूनिया की अध्यक्षता में हुई। कार्यवाही कर संचालन जिला सचिव सुरेंद्र सांगवान ने किया। बैठक में जिलेभर की सभी शाखाओं के पदाधिकारियों ने भाग लिया। इस अवसर पर राज्य प्रचार सचिव राजेंद्र सांगवान ने विशेष रूप से अपनी उपस्थिति दर्ज की। राजेन्द्र सिंह ने बताया कि 8 नवंबर को अधीक्षक अभियंता जन स्वास्थ्य परिमंडल भिवानी के कार्यालय के समक्ष प्रांतीय प्रधान शिवकुमार पराशर की अध्यक्षता में एक दिन का सांकेतिक धरना दिया जाएगा। धरने में कर्मचारियों को विभिन्न मांगों को मनवाने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। जिला प्रधान जयप्रकाश ने बताया कि मांगें ना माने जाने के कारण कर्मचारियों में रोष है, जिले की सभी पदाधिकारी व कर्मचारी 8 नवंबर को किए जाने वाले धरना प्रदर्शन में हिस्सा लेंगे। उन्होंने बताया कि इससे पहले 26 अक्टूबर को राज्य प्रधान शिव कुमार पराशर ने भिवानी में राज्य स्तर की बैठक में बताया था कि प्रदेश भर के कच्चे कर्मचारियों को 6 से 8 महीने का वेतन नहीं दिया जा रहा है तथा विभागों में कम वेतन देकर कार्य करवाया जा रहा है। चरखी दादरी में एक क्लर्क द्वारा कर्मचारियों के जीपीएफ, लिव इन कैश मैंट व वेतन के पैसों का गबन किया हुआ है।

कर्मचारियों को अब तक उनके रुपये मिलना बाकी है उनकी अदायगी की जाए। पांच वर्ष की सेवा पूरी कर चुके कर्मचारियों को पक्का किया जाए। न्यूनतम वेतन 25 हजार 500 रुपये किया जाए। सभी कर्मचारियों का मेडिकल कैशलेस पहचान पत्र बनवाए जाए।

सेवा नियमों में संशोधन करके प्रमोशन के लिए आवश्यक 5 वर्ष के अनुभव की बजाए 3 वर्ष किया जाए। चतुर्थ श्रेणी से तृतीय श्रेणी में पदोन्नत होने वाले कर्मचारियों को एक अतिरिक्त वेतन वृद्धि दी जाए। उन्होंने कहा कि मांग पूरी न होने पर आंदोलन को ओर अधिक तेज किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...