गोवंश की जीवनयात्रा:गोवंश की अंतिम क्रिया के लिए जमीन निर्धारित करने के लिए सौंपा ज्ञापन

चरखी दादरी16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नगर में खुले घूम रहे व पशुपालकों द्वारा पाले जा रहे गोवंश की जीवनयात्रा पूरी होने पर उनके अंतिम निष्पति क्रियाक्रम के लिए नगर में निर्धारित जगह न होने परेशानियां आ रही हैं। इस कारण से भावनात्मक समाज व गोवंश पालकों द्वारा गोमाता की अंतिम यात्रा को परंपरागत तरीके से जमीन में दबाकर निष्पति क्रिया पूरी करने के लिए किसी दूसरे की जमीन या खाली पड़े भूखंडों के प्रयोग पर अनेक परेशानियों व झगड़ों का सामना करना पड़ता है।

इस बात को लेकर भारतीय शक्ति चेतना पार्टी महिला शाखा हरियाणा प्रदेश अध्यक्ष अनिता ने एसडीएम विरेंद्र सिंह को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि गोमाता के प्रति मानवीय आस्था व भावनाओं के अनुरूप व्यवस्थापूर्वक तरीके से करने के लिए नगर परिषद अपने किसी भूखंड को गौमुक्ति धाम के रूप में निर्धारित करे। एसडीएम विरेंद्र सिंह ने भूमि निर्धारित करने का आश्वासन दिया।

खबरें और भी हैं...