शहर में पसरी गंदगी / नप सफाई कर्मी 2 दिन से हड़ताल पर, सड़कों वार्डों और कॉलोनियों में फैला 30 टन कचरा

दादरी। शहर के रोहतक रोड किनारे लगा गंदगी का ढेर ओर वहा खड़ा आवारा पशु। दादरी। शहर के रोहतक रोड किनारे लगा गंदगी का ढेर ओर वहा खड़ा आवारा पशु।
X
दादरी। शहर के रोहतक रोड किनारे लगा गंदगी का ढेर ओर वहा खड़ा आवारा पशु।दादरी। शहर के रोहतक रोड किनारे लगा गंदगी का ढेर ओर वहा खड़ा आवारा पशु।

  • 187 में से 140 कर्मी थे हड़ताल पर, 40 आउट सोर्सिंग वाले कर्मियों का कार्यकाल भी पूरा

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 06:34 AM IST

चरखी दादरी. अपनी मांगों को लेकर दो दिन से हड़ताल पर बैठे नगर परिषद सफाई कर्मचारियों के कारण शहर में हर जगह गंदगी के ढेर लग गए हैं। इतना ही नहीं शहर की मुख्य सड़कों के किनारे गंदगी होने से आवारा पशु भी घुमने लगे हैं। एक तरफ कोरोना महामारी फैलती जा रही है और दूसरी तरफ गंदगी फैलने से शहरवासियों को परेशानी उठानी पड़ रही है। 

वहीं नगर परिषद के कुल 187 सफाई कर्मचारियों में से 40 आउट सोर्सिंग वालों की सेवा मंगलवार को समाप्त कर दी है। ऐसे में कर्मचारियों की कमी शहर की सुंदरता पर जरूर प्रभाव डालेगी।
नगर परिषद के सफाई कर्मचारी प्रतिदिन शहर में साफ सफाई कर करीब 15 टन कचरा निकालते हैं। लेकिन सोमवार व मंगलवार को 90 प्रतिशत सफाई कर्मचारी हड़ताल पर थे। इस कारण शहर की सड़कों, कॉलाेनियों व वार्डों में करीब 30 टन कूड़ा कचरा फैला हुआ है। जिसे साफ करने में कर्मचारियों को करीब तीन से चार दिन लग जाएंगे।

आज लौटेंगे काम पर, कर्मियों ने सरकार को मांगों को लेकर एक सप्ताह का समय दिया 
सफाई कर्मचारियों ने दो दिन की हड़ताल रखी थी। ऐसे में वह बुधवार से दाेबारा काम पर लौट आएंगे। यह नहीं है कि कर्मचारी मान गए हैं बल्कि कर्मचारियों ने सरकार को एक सप्ताह का समय मांगे मानने के लिए दिया है। ऐसा नहीं करने पर कर्मचारियों ने 6,7 व 8 जुलाई को तीन दिवसीय हड़ताल का ऐलान कर दिया है। इन तीन दिनों में सरकार मांगे नहीं मानती है तो कर्मचारियों की यह हड़ताल अनिश्चितकालीन हो सकती है।

एक सप्ताह बाद दाेबारा करेंगे हड़ताल : प्रधान
सफाई कर्मचारी यूनियन प्रधान सुनीता देवी ने कहा कि उनकी मुख्य मांगे कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने, समान काम समान वेतन और पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की मांग हैं। अगर जल्द सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानी तो 6, 7 व 8 जुलाई को दाेबारा हड़ताल की जाएगी।

70 नए कर्मचारी लगाने की तैयारी, विभाग को पत्र लिखा
नगर परिषद में कुल 187 सफाई कर्मचारी हैं। इनमें से 56 कर्मचारी पक्के, 91 डीसी रेट और 40 आउट सोर्सिंग के लगे हुए हैं। इनमें से आउट सोर्सिंग के 40 कर्मचारियों का कार्यकाल मंगलवार को समाप्त हो गया है। ऐसे में अब नगर परिषद के पास कुल 147 सफाई कर्मचारी रह गए हैं जिनके कंधों पर पूरे शहर की साफ सफाई का जिम्मा है। वहीं अब कर्मचारियों की संख्या पहले से ज्यादा बढ़ाने के लिए नगर परिषद ने प्रयास शुरू कर दिए हैं। इसके लिए 70 कर्मचारी आउट सोर्सिंग पर भर्ती करने के लिए विभाग को डिमांड लेटर भेज दिया गया है।

कर्मी भर्ती कर सुधारी जाएगी सफाई व्यवस्था : सीएसआई
नगर परिषद की सीएसआई राजकुमार ने बताया कि करीब 187 कर्मचारियों में से करीब 140 कर्मचारी हड़ताल पर थे। वहीं मंगलवार को 40 आउट सोर्सिंग वाले कर्मचारियों का कार्यकाल पूरा हो गया है। शहर में सफाई व्यवस्था को बेहतर किया जाए इसके लिए 70 कर्मचारी भर्ती करने के लिए विभाग को पत्र लिखा गया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना