पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • The Broker Used To Get 6 To 7 Files Deposited Every Day, 8 To 10 Thousand Of A Clerk Used To Earn Black Every Day

दादरी में सीएम फ्लाइंग की रेड:दलाल हर दिन 6 से 7 फाइलें करवाता था जमा, रोजाना एक क्लर्क की 8 से 10 हजार होती थी काली कमाई, एक क्लर्क हुआ फरार

चरखी दादरी13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दादरी। पुलिस गिरफ्त में रजिस्ट्रेशन क्लर्क सुनीता देवी और दलाल प्रदीप यादव।
  • सीएम के छापे में पकड़े गए सुनीता का कोरोना रैपिड टेस्ट करवा सुनारिया जेल भेजा, प्रदीप को रिपोर्ट आने तक किया क्वारेंटाइन

सीएम फ्लाइंग द्वारा पकड़े गए दलाल प्रदीप यादव सहित रजिस्ट्रेशन क्लर्क सुनीता देवी व लाइसेंस क्लर्क मोहित कुमार पिछले ढाई महीने से रुपये लेकर लोगों के घर बैठे डीएल और आरसी बनाकर दे रहे थे। लॉकडाउन के दौरान कार्य बंद था इसलिए ढाई महीने से हररोज पहले से 200 डीएल व आरसी की ज्यादा फाइलें उनके पास आ रही थी। पुलिस गिरफ्त में आए प्रदीप व सुनीता देवी का बुधवार को कोरोना टेस्ट करवाया गया। इसके बाद सुनीता देवी को सुनारिया जेल में हिरासत के लिए भेज दिया गया है। वहीं प्रदीप यादव को कोरोना रिपोर्ट आने तक क्वारेंटाइन कर दिया गया है। वहीं तीसरा आरोपी मोहित फरार हो चुका है जिसे दबोचने के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है।

एक फाइल जमा करने पर क्लर्क को मिलते थे 1500 रुपये

लॉकडाउन में डीएल व आरसी का कार्य बंद था जो 1 जुलाई से दोबारा शुरू हुआ था। ऐसे में अब हररोज करीब 800 डीएल व 800 आरसी की फाइलें जमा हो रही हैं। जबकि लॉकडाउन से पहले सामान्य दिनों में हर रोज करीब 500-500 फाइलें जमा होती थी। वहीं दलाल द्वारा हररोज 5 से 7 फाइलें जमा करवाई जा रही थी। इस एक फाइल जमा करने पर क्लर्क को करीब 1500 रुपये मिलते थे। यानि प्रतिदिन एक क्लर्क को 8 से 10 हजार रुपये मिलते थे। इतने ही रुपये दलाल प्रदीप भी हररोज बचा लेता था।

दलाल दबोचने के तुरंत बाद फरार हो गया था मोहित

एसडीएम कार्यालय में लाइसेंस क्लर्क मोहित कुमार का सोमवार को ही तबादला बाढड़ा कर दिया गया था। जिसे मंगलवार को अपना कार्यभार बाढड़ा में संभालना था। उसी दिन मंगलवार सुबह सीएम फ्लाइंग ने गांव चांगरोड निवासी दलाल प्रदीप यादव को दबोच लिया था। इसकी भनक लगते ही लाइसेंस क्लर्क मोहित ने बाढड़ा में अपना कार्यभार भी नहीं संभाला और फरार हो गया। पुलिस ने दलाल प्रदीप यादव के खुलासा करने के तुरंत बाद रजिस्ट्रेशन क्लर्क चंपापुरी निवासी सुनीता देवी को तो दबोच लिया था। मगर मोहित अभी तक पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाया है।

मोहित बाढड़ा से तो सुनीता डीसी ऑफिस से आई थी ढाई महीने पहले

निर्धारित शुल्क से ज्यादा रुपये लेकर दलालों के कहने पर डीएल व आरसी तैयार करने वाली सुनीता देवी लॉकडाउन से पहले डीसी ऑफिस में कार्यरत थी। वहीं मोहित बाढड़ा में कार्यरत था। लॉकडाउन के बाद जैसे ही कार्यालय खुले मोहित को बाढड़ा से दादरी लाइसेंस क्लर्क का कार्यभार दिया गया था और सुनीता देवी को रजिस्ट्रेशन क्लर्क का कार्य भार। दोनों लॉकडाउन के बाद ही इन अहम पदों पर नियुक्त हुए थे। जिन्होंने यह कार्यभार मिलते ही दलालों से सांठगांठ कर रिश्वत लेकर डीएल व आरसी बनाना शुरू कर दिया।

लाइसेंस क्लर्क को दबोचने के लिए तीन टीमें गठित: डीएसपी

लाइसेंस क्लर्क मोहित कुमार फरार हो चुका है। जिसे दबोचने के लिए तीन टीमें गठित की गई हैं। दादरी सीआईए, स्पेशल स्टॉफ और सिटी थाना पुलिस। वहीं रजिस्ट्रेशन क्लर्क को न्यायालय में पेश कर सुनारिया जेल भेज दिया गया है। दलाल प्रदीप यादव का कोरोना सेंपल दिलाकर उसे क्वारेंटाइन करवा दिया है। रिपोर्ट आने के बाद न्यायालय में पेश कर आगामी कार्रवाई की जाएगी।-रामसिंह बिश्नोई, डीएसपी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें