मांग:हरियाणा शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति का धरना लघु सचिवालय पर 23वें दिन भी रहा जारी

चरखी दादरीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • बर्खास्त पीटीआई की बहाली का रास्ता निकालें: प्रीतम

1983 पीटीआई बहाली के लिए हरियाणा शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति का धरना लघु सचिवालय पर मंगलवार को 23वें दिन भी जारी रहा। 

जिला प्रधान सज्जन कुमार की अध्यक्षता में सुनील, धर्मवीर, उर्मिला, अनिता को माला पहनाकर व सरकार विरोधी नारों के साथ धरने की शुरूआत की। मुख्य वक्ता प्रीतम पूर्व चेयरमैन, आजाद सरपंच खेड़ी सनवाल ने अपने संबोधन में कहा कि पीटीआई को सरकारी कार्य से मुक्त करना बड़ा ही गलत फैसला है।

हम इसका पुरजोर विरोध करते है और सरकार से अनुरोध करते है कि इन 1983 पीटीआई के परिवार का ख्याल रखते हुए सरकार इनकी बहाली का रास्ता निकाले ताकि इन परिवारों का जीवन सुचारू रूप से जारी रहे। उन्होंने पीटीआई का सभी प्रकार से समर्थन देने का समर्थन पत्र देते हुए विश्वास दिलाया कि सभी परिस्थितियों में वह पीटीआई के साथ रहेंगे। 

जोरावर सिंह पूर्व सरपंच चरखी ने भी सरकार के इस कार्य की भर्त्सना करते हुए सहयोग देने का विश्वास दिलवाया। जिला प्रधान सज्जन कुमार ने सभी धरना स्थल पर उपस्थित सदस्यों के साथ मिलकर बुधवार 8 जुलाई को शहर में सरकार के विरूद्ध जागरूकता रैली निकालने के लिए रूप रेखा तैयार की। इस समय धरना स्थल पर देवेन्द्र, इन्द्रसिंह, देवकरण पीटीआई, रविन्द्र, सुमित कुमार, ओमप्रकाश, बीर सिंह, सुमेर सिंह, रणधीर, मा. रामरत्न, जगबीर सिंह, अशोक फौगाट प्रधान, यादवेन्द्र डूडी, धर्मचन्द, लक्की शर्मा, राजकुमार, दिनेश, अनिल, राकेश शास्त्री व भारतीय सेना के रिटायर्ड कर्मचारियों के साथ काफी संख्या में पीटीआई-डीपीई उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...