पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • 5 Days Ago, After Complaint By The Shopkeepers Of Thana Road, Pradhan Took Accountability Of The Nap Officials And The Contractor, Even After That No Improvement

शौचालयों में न सफाई न पानी:5 दिन पहले थाना रोड के दुकानदारों की शिकायत के बाद प्रधान ने नप अधिकारियों व ठेकेदार से की थी जवाबदेही, उसके बाद भी सुधार नहीं

फतेहाबाद16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फतेहाबाद। बस स्टैंड के शौचालय में वॉश वेशन में हाथ धोने के लिए पानी न होने की समस्या दिखाता सोनू।

नगर परिषद की ओर से शहर में बनाए गए सार्वजनिक शौचालयों की स्थिति अभी भी सुधरी नहीं है। पांच दिन पहले दुकानदारों व आमजन की शिकायत मिलने के बाद नगर परिषद प्रधान दर्शन नागपाल ने अधिकारियों व ठेकेदार से इन शौचालयों की सफाई व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए थे, लेकिन रविवार तक हालात जस के जस दिखे। शहर में बने सार्वजनिक शौचालयों की सफाई पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है, नए बने शौचालयों को एक साल बाद भी शुरू नहीं किया जा सकता है, तो जिनमें कुछ दिक्कत आई तो उसे भी दूर नहीं किया गया।

जिसका परिणाम दुकानदारों व राहगीरों को भुगतना पड़ रहा है। शहर में महिलाओं के लिए विशेष सार्वजनिक शौचालय न होना भी चिंता का विषय है। जहां व्यवस्था है, वहां हालात खराब हैं। जबकि इन सार्वजनिक शौचालयों की सफाई के लिए 93 हजार प्रतिमाह का ठेका दिया हुआ है। नगर परिषद की ओर से शहर के थाना रोड पर दो शौचालय बनाए हुए हैं, एक शौचालय उधम सिंह पार्क के पास है, दूसरा सिटी थाने के पास दुकानों के बीच में बना हुआ है। लेकिन इसमें एक बंद है तो दूसरे में सफाई नहीं है।

उधम सिंह पार्क के पास बना शौचालय केवल पुरुषों के लिए ही है जबकि थाना रोड, चार मरला कॉलोनी शहर का मुख्य बाजार है, जहां पर हजारों लोग खरीददारी करने आते हैं, लेकिन शौचालय की हालत खराब है। नए बस स्टैंड के सामने, सिरसा रोड पर ग्रीन बेल्ट में, पुराना बस स्टैंड के पास रेस्ट हाउस के सामने, पुराना एसडीएम आवास के सामने भी शौचालय हैं, लेकिन हालत ठीक नहीं है।

सफाई को लेकर ठेकेदार और अधिकारी नहीं गंभीर

बीते बुधवार को थाना रोड के दुकानदारों ने नगर परिषद प्रधान दर्शन नागपाल को उधम सिंह पार्क के पास बने शौचालय की सफाई न होने की शिकायत की थी, जिसके बाद प्रधान ने नगर परिषद अधिकारियों व ठेकेदार को मौके पर बुलाकर सफाई की हिदायत दी थी, लेकिन उसके पांच दिन बाद भी शहर के सार्वजनिक शौचालयों की हालात सुधरना तो दूर, उनकी सुध नहीं ली गई है। ऐसे में इस अहम विषय पर प्रशासन गंभीर नहीं है।

पुराना बस स्टैंड के शौचालय में नहीं लाइट की व्यवस्था

पुराना बस स्टैंड पर बने शौचालय में तारें टूटी हुई। लाइट की व्यवस्था नहीं है। अंधेरे की वजह से लोग शौच करने से गुरेज करते हैं। सफाई के मामले में भी स्थिति चिंताजनक है। नियमित सफाई न होने पर बदबू आ रही है। यहां अशक्त लोगों के लिए बने शौचालय पर लॉक लगा रहता है।

ग्रीन बेल्ट के शौचालय का काम अधर में ही छोड़ा

नगर परिषद की ओर से बस स्टैंड के पास टैक्सी स्टैंड के पास ग्रीन बेल्ट में शौचालय बनाया गया है, लेकिन पिछले कई महीनों से काम अधर में छोड़ा हुआ है। उस पर लगे ताले को अब जंग लगने लगा है। टैक्सी स्टैंड के पास काम करने वाले मुकेश कुमार, दिनेश कुमार, सतपाल, गौरव ने बताया कि यहां पर काफी लोग आते-जाते हैं, गाड़ियों वाले भी होते हैं, लेकिन शौचालय का प्रबंध नहीं है। शौचालय का काम में बीच में ही छोड़ दिया गया।

एसएचओ के कमरे में सीलन आने से शौचालय बंद

सिटी थाना के साथ लगती दीवार के पास दुकानों के बीच में नगर परिषद की ओर से शौचालय बनाया हुआ है, लेकिन नियमित सफाई व देखभाल न होने से यहां गंदगी के हालात बन गए। कुछ दिन पहले शौचालय की दीवार में सीलन आने लगी, जोकि सिटी थाने में एसएचओ के कमरे को लगती है। एसएचओ की शिकायत पर नप ने इस शौचालय पर ताला लगा दिया, जिससे कोई उसका प्रयोग न करे।

बस स्टैंड पर महिला शौचालय बंद

बस स्टैंड के पास बने शौचालय में सफाई तो है ही नहीं। इसके अलावा हाथ धोने के लिए पानी तक की व्यवस्था नहीं है। महिला शौचालय बंद किया हुआ है। इस कारण वहां कोई आता जाता तक नहीं है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें