दिशा - निर्देश:डीसी ने सभी विभागों को जल उपयोग और संरक्षण का डाटा तैयार करने के दिए निर्देश

फतेहाबाद8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लघु सचिवालय के सभागार में जिलास्तरीय जल संसाधन प्राधिकरण की बैठक की अध्यक्षता करते उपायुक्त प्रदीप कुमार। - Dainik Bhaskar
लघु सचिवालय के सभागार में जिलास्तरीय जल संसाधन प्राधिकरण की बैठक की अध्यक्षता करते उपायुक्त प्रदीप कुमार।

डीसी प्रदीप कुमार की अध्यक्षता में लघु सचिवालय के सभागार में जिला स्तरीय जल संसाधन प्राधिकरण की बैठक में जिला में भूजल स्तर और अन्य स्रोतों के जल उपयोग बारे गंभीरता से चर्चा की गई। उपायुक्त ने सभी विभागों से कहा है कि विभाग अपने-अपने क्षेत्र में उपयोग होने वाले जल और भविष्य की योजना का डाटा सिंचाई विभाग को भेजे। उपायुक्त ने बताया कि कई क्षेत्रों में सतही जल की कमी के साथ भूजल स्तर में गिरावट की खतरनाक स्थिति पैदा हो गई है। भविष्य में गंभीर जल संकट और पानी के अत्यधिक दोहन की स्थिति से निपटने के लिए राज्य में पानी की सुरक्षा, संरक्षण, नियंत्रण एवं उपयोग को नियमित करने के लिए एक उचित कानून बनाने की अत्यधिक आवश्यकता है।

इसके लिए हरियाणा जल संसाधन (संरक्षण, प्रबंधन और विनियमन) प्राधिकरण विधेयक, 2020 के प्रारूप को स्वीकृति दी गई है। जिला स्तर पर भी हरियाणा जल संसाधन प्राधिकरण कमेटी जिला में जल के संरक्षण और प्रबंधन बारे काम करेगी। उन्होंने सभी विभागों से कहा है कि वे अपने अंतर्गत जल के उपयोग और प्रबंधन की विस्तृत रिपोर्ट तैयार करें, ताकि भविष्य की योजनाएं बनाई जा सके की किस प्रकार हमें जल के इस्तेमाल और इसके संरक्षण की आवश्यकता होगी। उन्होंने कहा कि जिला में जल के अत्यधिक दोहन के कारण कई क्षेत्रों में जल स्तर काफी नीचे पहुंच गया है, जो भविष्य में गंभीर स्थिति पैदा कर सकता है। बैठक में सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता ओपी बिश्रोई, कार्यकारी अभियंता देवेंद्र सिंह, डीएफओ बलबीर सिंह, उद्योग विभाग के सहायक निदेशक गुरप्रताप सिंह, जीसी लांग्यान आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...