पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जन संगठन मंच ने की संयुक्त मीटिंग:भारत बंद की तैयारी के लिए 20 को अनाज मंडी फतेहाबाद में होगी जिला स्तरीय कन्वेंशन

फतेहाबाद9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पटवार भवन में संयुक्त किसान मोर्चा व जन संगठन मंच ने की संयुक्त मीटिंग

संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर 27 सितम्बर को भारत बंद को सफल बनाने को लेकर जिले में तैयारियां तेज कर दी गई है। फतेहाबाद के पटवार भवन में संयुक्त किसान मोर्चा व जन संगठन मंच की संयुक्त मीटिंग किसान नेता योगेन्द्र भूथन, कल्याण सिंह बड़ोपल, मजदूर नेता रामचंद्र सहनाल व मदन सिंह की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक का संचालन किसान मोर्चा व जन संगठन मंच संयोजक जगतार सिंह पूर्व सरपंच ने किया।

संयोजक ने बताया कि पिछले महीने 26-27 अगस्त को संयुक्त किसान मोर्चा की हुई दो दिवसीय कन्वेंशन में देशभर से हजारों किसान मजदूर व ट्रेड यूनियनों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया था। बैठक में 27 सितम्बर को शहीदे-आजम भगत सिंह के जन्मदिवस पर तीनों कृषि विरोधी, व्यापार विरोधी व खाद्य सुरक्षा विरोधी कानूनों, बिजली विधेयक, पराली प्रदूषण संबंधी विधेयक, मजदूर विरोधी 4 कोड बिल बिना शर्त रद्द करवाने व मुद्रीकरण के नाम पर तमाम सरकारी सेवा क्षेत्र कंपनियों को बेचने के खिलाफ भारत बंद का आह्वान किया गया था।

आज हुई मीटिंग में मुख्य तौर पर संयुक्त किसान मोर्चा के भारत बंद के आह्वान को सफल बनाने के लिए 20 सितम्बर को जिला स्तरीय कन्वेंशन करने का निर्णय लिया गया। कन्वेंशन में जिलाभर की तमाम किसान जत्थेबंदियों, मजदूर यूनियनों, ट्रेड यूनियनों, कर्मचारी यूनियनों, आढ़ती एसोसिएशन, दुकानदार यूनियन, व्यापार मंडल, मुनीम, ट्रांसपोर्ट, पल्लेदार यूनियनों, बुद्धि जीवी व सामाजिक संगठनों के कार्यकर्ताओं को शामिल करने का निर्णय लिया गया।

इसके अलावा हर गांव से 5-5 किसानों को फतेहाबाद पहुंचने का आह्वान किया गया। इस कन्वेंशन को जिला नेतृत्व के अलावा यूनियनों के राज्य स्तरीय नेता भी संबोधित करेंगे। इस अवसर पर विष्णुदत्त भट्टू, जोगिंद्र सिंह भ्याणा, बेगराज, कल्याण सिंह धांगड, ओमप्रकाश अनेजा, छत्रपाल सिंह नथवान, जगदीश फुलां, मनफूल ढ़ाका, मोहनलाल नारंग, गुरजंट सिंह रत्ताथेह, प्यारा राम म्योंद, जंगीर सिंह रतिया, एडवोकेट शाहनवाज, रमेश जांडली कलां, धर्मपाल जांडली खुर्द, हरपाल सिंह भूथन, बंसी लाल सिहाग जांडवाला सौत्र सहित अनेक किसान मजदूर कर्मचारी संगठनों के प्रतिनिधि शामिल हुए।

खबरें और भी हैं...