पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

धमकी:भिरडाना में नशे के खिलाफ मुहिम चला रहे युवाओं को नशा तस्करों ने दी धमकी

फतेहाबाद9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गांव भिरड़ाना में बढ़ते नशे पर रोकथाम को लेकर चलाई जा रही मुहिम से जुड़े लोगों को कुछ नशा तस्करों द्वारा धमकी देने का मामला सामने आया है। इसे लेकर ग्रामवासियों ने गांव में बैठक की व बाद में इस मामले में थाना सदर फतेहाबाद में पहुंचकर पुलिस को शिकायत देते हुए आरोपियों पर कार्रवाई कर इनकी जल्द गिरफ्तारी की मांग की है।

सदर थाने में मौजूद नशा विरोधी कमेटी के सदस्य सुनील कुमार ने बताया कि मंगलवार शाम को भी गांव भिरडाना की नशा विरोधी कमेटी के युवा जागरूकता अभियान के बाद वापस लौट रहे थे तो रास्ते में गांव के ही नशा तस्करों ने इन युवाओं को जान से मारने की धमकियां दी है। उन्होंने बताया कि मोटरसाइकिलों पर सवार होकर आए हथियारबंद नशा तस्करों ने कहा कि आप कितना ही कुछ कर लो हमारी ऊपर तक सैटिंग है, हम इसी तरह गांव में नशा बेचेंगे। रोकने पर उन्होंने कमेटी सदस्यों को जान से मारने और गांव से बाहर निकलवा देने की धमकी दी।

युवाओं को मिली इस धमकी की सूचना मिलते ही ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। इसके बाद बुधवार सुबह गांव के पंचायत घर में बैठक बुलाई गई जिसमें सैंकड़ों ग्रामीणों ने भाग लिया। बैठक में धमकी देने वाले युवकों के परिजन भी नहीं आए। बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा के बाद आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का निर्णय लिया गया और ग्रामीणों ने सदर थाने पहुंचकर पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई।

शिकायत देने आए भिरड़ाना निवासी हेतराम, भूषण नूनिया, जसविंदर सिंह, प्रेम कुमार, सुरजीत, जीतराम, लीलूराम वर्मा, राकेश, धीरज, सुखविंदर, पालाराम, भगवान सिंह, लक्खा सिंह, गजेन्द्र, विकास, सीताराम, धन्नाराम, हनुमान सिंह आदि ने पुलिस को बताया कि उनके गांव के कई युवकों द्वारा उन्हें बार-बार धमकियां मिल रही हैं। उन्होंने सदर एसएचओ को आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर उन्हें गिरफ्तार करने की मांग की।

गौरतलब है कि नशा विरोधी कमेटी द्वारा जिला पुलिस के सहयोग से गत 26 जून को गांव में नशा निरोधक दिवस गया था और गांव में जागरूकता को लेकर साइकिल रैली निकाली गई थी। इस कार्यक्रम में जिला पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने स्वयं भाग लिया था।

शिकायत मिली है। आरोपी पक्ष को बुलाया गया है। मामले की जांच की जा रही है।'' -जगजीत सिंह, प्रभारी, सदर थाना।

खबरें और भी हैं...