• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Fatehabad
  • Farmers Unhappy With The Action Of The Officers In Jakhal Suspended The License Of Ratia's Fertilizer Seller Who Lied To The Farmers, Gave A Complaint In The Police Station, Clarification Will Have To Be Given In 10 Days

डीएपी होते हुए भी किसानों को नहीं दी:किसानों से झूठ बोलने वाले रतिया के खाद विक्रेता का लाइसेंस सस्पेंड जाखल में अफसरों की कार्रवाई से नाखुश किसानों ने थाने में दी शिकायत, 10 दिनों में देना होगा स्पष्टीकरण

फतेहाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस थाना में खाद विक्रेता के खिलाफ शिकायत देने पहुंचे किसान। - Dainik Bhaskar
पुलिस थाना में खाद विक्रेता के खिलाफ शिकायत देने पहुंचे किसान।
  • किसान बोले - गड़बड़ी की ऑडियो और वीडियो देने तथा अफसरों को स्टॉक मिसमैच मिलने पर भी की गई है कम कार्रवाई, केस दर्ज करने की मांग

कृषि उप निदेशक राजेश द्वारा मंगलवार की रात को जाखल में किसानों द्वारा केवल फर्टिलाइजर पर खाद की गड़बड़ी पकड़वाने के मामले में केवल लाइसेंस सस्पेंड करने के विरोध में किसान थाने पहुंच गए।

इस संबंध में किसानों ने पुलिस को लिखित शिकायत देकर केवल फर्टिलाइजर के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की है। उधर वीरवार को रतिया में डीएपी खाद होते हुए भी किसानों को खाद नहीं होने की बात कहने वाले किसान केमिकल के संचालक अशोक व मनीष का कृषि विभाग ने लाइसेंस सस्पेंड कर दिया है। विभाग ने लाइसेंस सस्पेंड करते हुए विक्रेता से इस पर अगले 10 दिन में अपना स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने को कहा है। विदित हो कि रतिया के उक्त दुकान के गोदाम में वीरवार को 125 बैग खाद मिली थी।

पंजाब में सप्लाई की जा रही थी डीएपी खाद

पुलिस को दी शिकायत में किसान संघर्ष समिति के प्रधान लाभ सिंह, उप प्रधान जगसीर सिंह जग्गी, उत्तम सिंह ने कहा कि 12 अक्टूबर को केवल फर्टिलाइजर से डीएपी खाद लेने गए तो दुकानदार संजय ने मना कर दिया। लेकिन जब वह उनके गोदाम में पहुंचे तो वहां पर पंजाब में डीएपी सप्लाई की जा रही थी। जिसकी मौके पर ऑडियो व वीडियो भी बनाई थी। विभाग के क्यूसीआई व एसडीओ द्वारा स्टॉक मिसमैच, कम बिल काटकर अधिक खाद देने व बिलों पर सही पता नहीं होने की रिपोर्ट के बाद भी विक्रेता का केवल लाइसेंस सस्पेंड किया गया है।

कृषि विभाग को भेजी जाएगी शिकायत

किसानों की शिकायत पर हमारी ओर से कोई भी सीधी कार्रवाई नहीं बनती, शिकायत को कृषि विभाग के पास भेजा जाएगा, विभाग की सिफारिश के आधार पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।'' -विजेंद्र, एसएचओ जाखल।

मांगा गया है जवाब : डीडीए

जाखल में किसानों ने जो खाद वितरण में गड़बड़ी पकड़वाई थी, उसमें स्टॉक मिसमैच मिलने पर फिलहाल विक्रेता का 14 दिन के लिए लाइसेंस रद्द कर चुके हैं, अगर कोई अन्य गड़बड़ी मिली तो और कार्रवाई बारे विचार करेंगे।'' -राजेश, डीडीए।

खबरें और भी हैं...