कृषि कानूनों का विराेध:जनसंगठनों ने बाजारों में नुक्कड़ सभाएं और मुनादी कर मांगा समर्थन

फतेहाबाद10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कृषि कानूनों में बदलाव की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन के तहत किसानों के 8 दिसंबर के भारत बंद आह्वान को विभिन्न सामाजिक संगठनों का सहयोग मिला। इस कड़ी में जिला मुख्यालय पर दर्जन भर संगठनों के पदाधिकारियों ने सेवानिवृत पुलिस कर्मचारी एसोसिएशन प्रधान रणधीर डबास के नेतृत्व में मुख्य बाजारों में नुक्कड़ सभाएं करके व मुनादी करते हुए दुकानदारों से बंद में भागीदार बनने का समर्थन मांगा।

इससे पूर्व संगठनों के पदाधिकारी लाल बत्ती चौक स्थित अंबेडकर पार्क में एकत्रित हुए। यहां से मोबाइल मार्केट, फव्वारा चौक, थाना रोड़, जवाहर चौक, सन्यास आश्रम रोड, धर्मशाला रोड, तुलसीदास चौक, वाल्मीकि चौक, मॉडल टाउन, हंस मार्केट आदि मुख्य बाजारों में दुकानदारों से भारत बंद में शामिल होने की अपील की।

संगठन पदाधिकारियों में पुलिस कर्मचारी एसोसिएशन प्रधान रणधीर डबास के अलावा सामाजिक कार्यकर्ता हरदीप सिंह, किसान नेता बलजीत सिंह माजरा, भाईचारा रेहड़ी यूनियन उपाध्यक्ष सुभाष शर्मा, हरियाणा किसान कल्याण मंच हलकाध्यक्ष राकेश कंबोज, समाजसेवी सतेंदर श्योराण, मोबाइल मार्केट यूनियन प्रधान मुकेश कुमार, महाब्राह्मण समाज समिति जिला प्रधान विनोद शर्मा, समाजसेवी हरजिंद्र सिंह मुख्य रूप से शामिल रहे। इस अवसर पर बल्लू यादव, हरजंत सिंह, भूपिंद्र सिंह आिद उपस्थित रहे।

सामुदायिक केंद्र में एकत्र होंगे प्रदर्शनकारी

भारत बंद के दौरान मंगलवार को शहर बंद करवा कर रोष प्रदर्शन किया जाएगा। किसान संघर्ष समिति के प्रदेश कन्वीनर मंदीप नथवान ने बताया कि किसान संगठन नये बस स्टैंड के पास सामुदायिक केंद्र में एकत्रित होगें। लोगों से अपील की गई है कि वे किसान आंदोलन में भारत बंद के लिए सहयोग करे। उन्होंने बताया कि भारत बंद के दौरान शहर को बंद करवा कर रोष प्रदर्शन किया जाएगा। वहीं दूसरी और खेती बचाओं किसान बचाओ समिति द्वारा भारत बंद के दौरान शहर में रोष प्रदर्शन का निर्णय लिया है। इसको लेकर सोमवार को अजीतसर गुरुद्वारा में बैठक भी की गई। प्रधान जरनैल सिंह मलवाला, रामचंद्र शहनाल, राजविंद्र चहल, बलविंद्र सिंह खोखर ने कहा कि किसान अनाज मंडी स्थित शैड के नीचे एकत्र होंगे। उसके बाद शहर में रोष प्रदर्शन किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...