कोरोना संक्रमण / सिरसा जिले में एक ही दिन में मिले 28 कोरोना पॉजिटिव सभी को धर्मशाला में किया क्वारेंटाइन, बने 11 कंटेनमेंट जोन

Quarantine made for 28 corona positives all found in a single day in Sirsa district, 11 containment zones made
X
Quarantine made for 28 corona positives all found in a single day in Sirsa district, 11 containment zones made

  • संंक्रमण को लेकर चुनौती बढ़ी, बरतें सतर्कता, मुंबई से आए 22 लोगों में से 15 की रिपोर्ट आई पाॅजिटिव

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:00 AM IST

फतेहाबाद. जिला में सोमवार को कोरोना का ब्लास्ट हो गया। एक ही दिन में सोमवार को अब तक के सबसे ज्यादा मामले 28 नये पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें 15 मुंबई से आए लाेग शामिल हैं जबकि अन्यों में दिल्ली, चंडीगढ़, पटियाला से आए ट्रेवलर और जेल के चार कैदी, पुलिस कर्मचारी, कोर्ट का नाजर भी शामिल हैं। अब स्वास्थ्य विभाग ने इनके संपर्क में आने वालों की तलाश शुरू कर दी है।
बाहर से आने वालाें की जांच तेज की गई तो पॉजिटिव केस भी अधिक मिलने लगे। अब तक के सबसे ज्यादा केस सोमवार को मिले। एक ही दिन में 28 नये पॉजिटिव मिले। खास बात ये है कि इनमें से केवल 2 में ही लक्षण पाए गए हैं जबकि अन्य सभी 26 बिना लक्षण वाले हैं। लक्षण मिलने वाले दोनों को अग्रोहा रैफर कर दिया गया है। चौंकाने वाली बात ये है कि इनमें से लगभग सभी की ट्रेवल हिस्ट्री है। अब ट्रेवलिंग के दौरान कहां-कहां गए और किससे मिले, ये पता किया जा रहा है। जिला प्रशासन ने 11 कंटेनमेंट जोन बनाने का फैसला लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। अब जिला में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा 43 तक पहुंच गया है। इनमें से 11 ठीक होकर घर जा चुके हैं जबकि 32 एक्टिव केस हैं।

डीसी ने ली अधिकारियों की मीटिंग में किया मंथन

सोमवार को एक साथ 28 कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद डीसी रमेश चंद्र बिढ़ान ने अधिकारियाें की मीटिंग ली। इस दौरान उन्होंने एडीसी मनदीप कौर, एसडीएम जयवीर यादव, सिटीएम कुलभूषण बंसल, सीएमओ सुरेंद्र नैन, डीएसपी राजेश चेची, डीएसपी आर्यन चौधरी, जीएम रोडवेज केआर कौशल से मंथन किया। डीसी ने कहा कि जिला में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते नागरिक और ज्यादा सावधानी व सतर्कता बरतें। अधिकारी कंटनमेंट जोन में किसी प्रकार की आवाजाही पर पूर्णतय रोक सुनिश्चित करें और इसकी उल्लंघना करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाए।

मॉनिटरिंग ठीक से होती तो कंटेनमेंट जोन नहीं बनाता:गलीवासी

29 मई को मुंबई में जूते-चप्पल बनाने का कारोबार करने वाले 22 लोग सिरसा पहुंचे। इन सभी की सिविल अस्पताल में जांच की गई और सैंपल लिए गए। सैंपल लेने के बाद इन्हे धर्मशाला में क्वारेंटाइन करने के लिए आदेश हुए लेकिन वहां तक पहुंचने ये लाेग अपने स्तर पर ऑटो रिक्शा करके पहुंचे। और ये लोग शहर भर में घूमते रहे। अब इनमें से 15 की रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। शहर के भादरा बाजार की गली मोचियों वाली और रानियां रोड स्थित मोचियों वाली गली के लोगों ने बताया कि यदि ठीक प्रकार से मॉनीटरिंग कर क्वारेंटाइन किया जाता ताे आज कंटेनमेंट जोन बनाने की जरूरत नहीं पड़ती।

कंटेनमेंट जोन बना दिए हैं: सिविल सर्जन

^सोमवार को 28 नये केस सामने आए हैं। इन मरीजों के संबंधित क्षेत्रों में 11 कंटेनमेंट जाेन बना दिए हैं। साथ ही इनके संपर्क में आए लोगों की जांच की जा रही है। परिजनों को भी सिरसा अस्पताल लाया गया है। 28 में से 2 में लक्षण मिलने पर अग्रोहा रेफर किया गया है।'' -डॉ. सुरेंद्र नैन, सिविल सर्जन, सिरसा।

जिले में कहां-कहां मिले रोगी 

  •     रानियां रोड और नोहरिया बाजार: रानियां रोड स्थित मोची वाली गली और नोहरिया बाजार स्थित मोची वाली गली निवासी 15 लोग मुंबई से आए जो काेरोना पॉजिटिव मिले।
  •     एमसी कॉलोनी: एम सी कॉलोनी निवासी स्वास्थ्य विभाग में ही कार्यरत हैं जिसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है।
  •     माखोसरानी: पुलिस गिरफ्त में आए दाे आरोपी भी काेरोना पॉजिटव मिले। जमानत मिलने के बाद घर चले गए। ऐसे में माखोसरानी गांव को भी कंटेनमेंट जोन बनाया गया है।
  •     कोटली: शहर के प्राइवेट अस्पताल के कर्मचारी को कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट मिली।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना