पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

तैयारी:पानी की निकासी के लिए चिल्ली से रंगोई तक 8 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन का लगा टेंडर

फतेहाबाद15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फतेहाबाद। चिल्ली जिसे झील बनाया जाना है जो फिलहाल कूड़े और गंदे पानी से भरी है।
  • मुख्यालय की मंजूरी के बाद शुरू होगा काम, 6 एजेंसियों ने भरा टेंडर

लंबे समय से चल रही चिल्ली को झील बनाने की योजना पर अब काम शुरू हो सकेगा। शहर व चिल्ली के पानी की निकासी को लेकर रंगोई नाले तक करीब 8 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन बिछाई जाएगी। जनस्वास्थ्य विभाग की ओर से इस प्रोजेक्ट को लेकर टेंडर की प्रक्रिया शुरू कर दी है। विभाग की ओर से मांगे टेंडर आवेदन में छह एजेंसियों ने टेंडर भरे हैं। टेंडर खोलने के बाद विभाग ने फाइल मुख्यालय के पास मंजूरी के लिए भेज दी है। मुख्यालय की ओर से इन एजेंसियों के टेंडर फार्म चेक करने के बाद किसे जारी किया जाए यह तय किया जाएगा।

शहर के बीचों बीच जवाहर चौक के पास पुराना तालाब है, जिसे चिल्ली के नाम से जाना जाता है। किसी समय यहां पर शीतला पर्व पर मेले लगा करते थे। समय के साथ चिल्ली की सफाई न होने व अनदेखी के चलते यहां गंदगी के ढेर लगने लग गए। करीब 20 साल पहले चिल्ली पूरी तरह से गंदगी से भर गई। सीवरेज का पानी यहां भर गया। जिससे चिल्ली का यह स्वरूप बन गया।

3 विभाग ऐसे चलाएंगे चिल्ली को झील बनाने का प्रोजेक्ट

1. जनस्वास्थ्य विभाग : पानी निकासी व पानी देने पर जनस्वास्थ्य विभाग काम करेगा। प्रोजेक्ट के लिए बजट नगर परिषद ने दिया है और उसकी देखरेख में ही काम होगा। प्रक्रिया: जनस्वास्थ्य विभाग की ओर से पानी निकासी को लेकर चिल्ली से रतिया रोड पर रंगोई नाले तक पाइप लाइन बिछाई जाएगी। जोकि 8 किलोमीटर लंबी लाइन होगी। फिलहाल टेंडर मांगे गए हैं, जिसमें छह एजेंसियों ने काम करने में रूचि दिखाई है। टेंडर किसे जारी करना है, यह मुख्यालय तय करेगा। डीसी डॉ. नरहरि सिंह ने 2 अक्टूबर को काम शुरू करने के निर्देश दिए हुए हैं, बाकी मंजूरी मिलने पर तय होगा कि कब काम शुरू होता है।

2. सिंचाई विभाग: चिल्ली से गाद निकालने व खुदाई का जिम्मा सिंचाई विभाग को दिया गया है। प्रक्रिया: चिल्ली के प्रोजेक्ट को शुरू करने के लिए सबसे अहम दो काम हैं, चिल्ली से गाद निकालना व पानी निकासी का प्रबंध करना। गाद व गंदगी निकालने का काम सिंचाई विभाग करेगा। जैसे ही पानी की पाइप लाइन बिछाई जाएगी, उसके साथ ही गाद निकालने का काम किया जाएगा। सिंचाई विभाग ने भी इस काम को करने के लिए अपने मुख्यालय के पास फाइल मंजूरी के लिए भेजी हुई है।

3. नगर परिषद: पार्क व अन्य डिजाइन पर नगर परिषद प्रशासन काम करेगा। {प्रक्रिया: झील बनाते समय पार्क व अन्य डिजाइन पर नगर परिषद काम करेगा। इसमें सबसे अहम समस्या कब्जों को हटाने की भी होगी। हाल ही में डीसी ने राजस्व विभाग के अधिकारियों व नप के अधिकारियों को चिल्ली की जगह को लेकर दोबारा से निशानदेही करने को कहा है। इसके लिए वर्ष 1950 का नक्शा देखा जा रहा है कि उस समय में चिल्ली कितने एरिया में फैली थी, मौजूदा समय में यह एरिया 27 कनाल 7 मरले बताया गया है।

बरसाती व गंदे पानी को रंगोई नाले में भेजा जाएगा: एक्सईएन

चिल्ली को झील बनाने के प्रोजेक्ट के तहत चिल्ली से रंगोई नाले तक 8 किलोमीटर लंबी पानी निकासी की लाइन बिछाई जानी है। जिससे बरसाती व गंदा पानी रंगोई में भेजा जा सके। इस काम को लेकर छह एजेंसियों ने टेंडर भरा है। अब किस एजेंसी को काम दिया जाए, इसका फैसला मुख्यालय करेगा। फाइल को भेज दिया गया है। जैसे ही अनुमति मिलेगी काम शुरू करा दिया जाएगा। -आदर्श सिंगला, एक्सईएन, जनस्वास्थ्य विभाग।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें