आपकी अलर्टनेस से कोराेना क्लीन बोल्ड:17 माह 4 दिन बाद पहली बार 0 पॉजिटिव, 0 डेथ और एक्टिव केस भी जीरो

हिसार/हांसी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिविल अस्पताल में वेंटिलेटर प्रयोग को लेकर आयोजित 2 दिवसीय वर्कशॉप संपन्न हुई। - Dainik Bhaskar
सिविल अस्पताल में वेंटिलेटर प्रयोग को लेकर आयोजित 2 दिवसीय वर्कशॉप संपन्न हुई।
  • सिविल सर्जन ने चेताया- कोरोना खत्म नहीं हुआ, सतर्कता बरतें और वैक्सीन जरूर लगवाएं

कोरोना काल के 17 माह और चार दिन बाद जिले के लिए बड़ी राहत की खबर आई है। दरअसल, गुरुवार को कोरोना के जिले में 0 पाॅॅजिटिव, 0 डेथ और 0 एक्टिव केस ने राहत दी। मार्च 2020 के अंत सेक्टर 16-17 में अमेरिका से लौटी महिला संक्रमित मिली थी। इसके बाद लगातार केस बढ़ने शुरू हुए थे। 2020 की पहली लहर में जून से लेकर नवंबर माह तक कोरोना का पीक रहा। इसके बाद दूसरी लहर का पीक अप्रैल से जून 2021 तक रहा।

बता दें कि कोरोना काल में अभी तक 6 लाख 65 हजार 612 लोगों के सैंपल लेकर जांच की जा चुकी है। इसमें संक्रमण के कुल 53 हजार 974 मामले मिल चुके हैं। अब तक कुल 52 हजार 834 लोग कोरोना से रिकवर हो चुके हैं। जिले में कोरोना से अब तक कुल 1140 लोगों की मृत्यु हुई है। कोरोना की पहली लहर में 327 और दूसरी लहर में 813 लोगों की मृत्यु हुई है।

पहली लहर में संक्रमण के 17 हजार 147 और दूसरी लहर में अब तक 36 हजार 827 मामले मिल चुके हैं। रिकवरी रेट भी 97.89 फीसद तक पहुंच गया है। सिविल सर्जन डॉ. रतना भारती ने जिला वासियों से अपील करते हुए कहा है कि कोरोना अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है, इसलिए हर व्यक्ति को सावधानी बरतनी बहुत जरूरी है।

वैश्विक महामारी से बचाव के लिए मास्क का प्रयोग करें एवं सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें। स्वास्थ्य विभाग संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीनेशन अभियान चला रहा है। इस दौरान ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में विभाग शिविर लगा रहा है। उन्होंने नागरिकों से आह्वान करते हुए कहा कि वे वैक्सीनेशन जरूर करवाएं।

खबरें और भी हैं...