पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टोल प्लाजा पर विरोध:रामायण टोल प्लाजा पर पुतला जलाकर मनाई काली होली

हांसीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हांसी। रामायण टोल प्लाजा पर कृषि कानूनों का पुतला जलाते किसान। - Dainik Bhaskar
हांसी। रामायण टोल प्लाजा पर कृषि कानूनों का पुतला जलाते किसान।

किसान आंदोलन के चलते किसान द्वारा रामायण टोल प्लाजा पर काली होली मनाई गई। इस दौरान किसान और संगठनों के सदस्यों ने प्रधानमंत्री का पुतला जलया। पूर्व जिला पार्षद प्रतिनिधि मनोज राठी व युवा किसान नेता कुलदीप खरड़ ने कहा कि आज देश का किसान, मजदूर, व्यापारी दुकानदार, आम आदमी बहुत परेशान है। मोदी सरकार जब से तीनों काले कानून लेकर आई है, तब से हर वर्ग की नींद उड़ गई है। उन्होंने कहा कि किसान तीनों कानूनों को वापस करवाने के लिए पिछले 4 महीने से आंदोलन कर रहे हैं।

कानून वापस नहीं हुए किसान की जमीन नहीं बचेगी। किसान और मजदूर नहीं बचेगा। देश में 70 प्रतिशत लोग खेतीबाड़ी से जुड़े हुए हैं। किसानियत कर अपना घर चलाते हैं। खेती बाड़ी की जमीन लोगों से चली गई तो यह 70 प्रतिशत लोग भी बेरोजगार हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि देश में अभी तक इतनी इंडस्ट्रीज और सरकारी नौकरियां नहीं बढ़ाई हैं कि सभी लोगों को रोजगार मिल सके। सरकार को सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रख कानून बनाने होंगे। उन्होंने कहा कि देश की पूरी व्यवस्था खेती पर निर्भर है।

बड़े पूंजीपति अब खेती में इंवेस्टमेंट करने की योजना बना रहे हैं। इसलिए मोदी सरकार यह कानून लेकर आई है। आज नेता गांवों में नहीं जा पा रहे हैं, इससे सरकार को मान लेना चाहिए कि जनता इन कानूनों के खिलाफ है। किसान नेता विकास सीसर, दलीप सूबेदार, रामकुमार हुड्डा, रघबीर कुंडू, होशियार सिंह, मांगेराम भाकर, मोनू, अमित रामायण, रामबिलास जांगड़ा, रिसाल सिंह, राजा फौजी, सुखबीर सहरावत, कुलदीप फौजी, गुड्डी देवी, रोशनी देवी, सुरेंद्र सरपंच, राज खरड़, दशरथ मालिक आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज घर के कार्यों को सुव्यवस्थित करने में व्यस्तता बनी रहेगी। परिवार जनों के साथ आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने संबंधी योजनाएं भी बनेंगे। कोई पुश्तैनी जमीन-जायदाद संबंधी कार्य आपसी सहमति द्वारा ...

    और पढ़ें