ईमानदारी जिंदा है:ट्रैफिक पुलिस के एसआई ने लौटाई ढाई तोले सोने की चेन

बरवाला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गांव राजली के सतपाल को उसकी गुम हुई सोने की चेन लौटाते यातायात पुलिस के एसआई अशोक कुमार। - Dainik Bhaskar
गांव राजली के सतपाल को उसकी गुम हुई सोने की चेन लौटाते यातायात पुलिस के एसआई अशोक कुमार।
  • गाड़ी के कागज दिखाने के दौरान सतपाल की जेब से गिरी थी सोने की चेन

शहर में यातायात पुलिस में तैनात सब इंस्पेक्टर अशोक कुमार ने गांव राजली निवासी सतपाल की पत्नी की गुम हुई करीबन सवा लाख रुपए की कीमत की ढाई तोले सोने की चेन लौटाकर ईमानदारी का परिचय दिया है। दरअसल गांव राजली निवासी सतपाल गांव से पिकअप गाड़ी में कुछ लोगों को लेकर बनभौरी मंदिर में माथा टेकने के लिए जा रहा था।

इस दौरान जब पिकअप गाड़ी हांसी मार्ग पर शहर के नजदीक पहुंची तो मार्ग पर खड़े यातायात पुलिस के एसआई अशोक कुमार ने गाड़ी को रुकने का इशारा किया। गाड़ी रुकी तो चालक सतपाल गाड़ी के कागजात पुलिस कर्मियों को दिखाने लगा। इस दौरान उसके पर्स में रखी उसकी पत्नी की सोने की ढाई तोले की सोने की चेन नीचे गिर गई।

गाड़ी के कागजात चेक करवाने के बाद सतपाल वहां से चला गया। इसके बाद एसआई अशोक कुमार की नजर सोने की चेन पर पड़ गई। उन्होंने चेन को उठाया व आस-पास खड़े लोगों से चेन के बारे जानकारी जुटानी चाही लेकिन चेन का मालिक नहीं मिला। इसके कुछ समय पश्चात सतपाल गाड़ी लेकर उसी स्थान पर पहुंचा व चेन के बारे पूछने लगा। एसआई अशोक कुमार को यकीन हो गया तो उन्होंने उसे सोने की चेन लौटा दी।

झपटमारों से बचाने के चक्कर में पत्नी की चेन डाली थी पर्स में

सोने की चेन लेने के लिए वापिस लौटे गांव राजली निवासी गाड़ी चालक सतपाल ने बताया कि वह नवरात्रों को लेकर बनभौरी मंदिर में माता के दर्शनों के लिए जा रहे थे। ऐसे में भीड़-भाड़ में कहीं उसकी पत्नी सोने की कीमती चेन खो ना बैठे इसलिए सतपाल ने चेन को पर्स में डाल लिया था। चेन मिलने के बाद सतपाल ने यातायात पुलिस के एसआई अशोक कुमार का आभार जताया।

खबरें और भी हैं...