पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

एंड रन मामला:जिस टीचर की गाड़ी पर था ग्रामीणों का शक, उसका रंग मिला दूसरा, पुलिस अब डंप कॉल से लगाएगी पता

हांसीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शेखपुरा के हिट एंड रन मामले में हुई पंचायत, डीएसपी, एसएचओ व पुलिस चौकी इंचार्ज भी आए

जींद रोड पर किशोरों को कुचले जाने के मामले में छह दिन बाद भी गाड़ी की पहचान न होने पर शेखपुरा में लोगों ने पंचायत की। पंचायत में डीएसपी, एसएचओ व पुलिस चौकी इंचार्ज ने भी शिरकत की। ग्रामीणों ने जिस गाड़ी पर शक जताया था, पुलिस गांव के कुछ लोगों को उस गाड़ी मालिक के घर पर ले गई। ग्रामीणों का कहना था मामले में पुलिस ढीली कार्रवाई कर रही। अभी तक गाड़ी की पहचान नहीं हो सकी। इसको लेकर हनुमान मंदिर में पंचायत का आयोजन किया। पंचायत में पहले शेखपुरा चौकी इंचार्ज एसआई सुरेश आए। फिर एसएचओ सदर थाना नरेंद्र पाल व डीएसपी धर्मबीर सिंह भी पहुंचे। पुलिस द्वारा पंचायत में अपना पक्ष रखा गया।

ग्रामीणों का कहना था कि गाड़ी की पहचान व नंबर बताने के बाद भी पुलिस कह रही है कि गाड़ी वह नहीं है। सीसीटीवी फुटेज की गंभीरता से जांच नहीं की जा रही है। छह दिन में पुलिस गाड़ी व गाड़ी चालक का कोई सुराग नहीं लगा सकी। इस पर पुलिस ने बताया कि जो गाड़ी नंबर बताया है वह माडल टाउन निवासी एक टीचर की गाड़ी का है।

उन्होंने बीते महीने से गाड़ी बाहर नहीं निकाली। वहीं एक प्रत्यक्षदर्शी भी मौक पर पहुंचा। उसने पुलिस को बताया कि गाड़ी की साइड में पीली पट्टी थी। घटना के समय अंधेरा होने पर वह गाड़ी का नंबर व रंग नोट नहीं कर सके। उस समय उनका ध्यान घायलों की तरफ था। पुलिस ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि वह मामले में पूरी छानबीन कर रहे हैं।

पुलिस के आश्वासन पर ग्रामीण मान गए। बता दें कि 16 सितंबर को हांसी-जींद रोड पर सुबह पांच बजे एक गाड़ी ने सड़क किनारे दौड़ लगाने के लिए बैठे सात युवकों और किशोरों को कुचल दिया था। दो की मौत हो गई थी और पांच घायल हो गए थे।

गाड़ी को घर से बाहर निकलवाया
पुलिस गांव के कुछ लोगों को माडल टाउन में लेकर गई। मृतक प्रिंस के भाई पारस को भी साथ लेकर गई। गाड़ी को घर से बाहर निकलवाया। लेकिन गाड़ी वह नहीं मिली। गाड़ी का रंग भी अलग मिला। गाड़ी मालिक ने ग्रामीणों को बताया कि 21 अगस्त के बाद से उन्होंने गाड़ी को बाहर नहीं निकाला।

फोन के डंप उठा रहे हैं : डीएसपी
^हम घटनास्थल व आस-पास के मोबाइल डंप उठा रहे हैं। हांसी-जींद रोड पर जो सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं, उनमें गाड़ी की पहचान स्पष्ट नहीं हो रही। न ही गाड़ी का नंबर साफ पता लग रहा है। अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है। कोशिश जारी है। कितना समय और लगेगा यह हम नहीं बता सकते हैं। ग्रामीणों ने जिस गाड़ी पर शक जताया था, वह गाड़ी नहीं है, उसकी हमने तसल्ली करवा दी है।''धर्मबीर सिंह, डीएसपी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें