एसडीओ को सौंपा ज्ञापन:दूषित पानी पीने पर मजबूर बिठमड़ा के ग्रामीण

बरवाला19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जनस्वास्थ्य विभाग के कार्यालय में मौजूद गांव बिठमड़ा के ग्रामीण। - Dainik Bhaskar
जनस्वास्थ्य विभाग के कार्यालय में मौजूद गांव बिठमड़ा के ग्रामीण।

अखिल भारतीय खेत मजदूर यूनियन बिठमड़ा इकाई द्वारा गुरुवार को जन स्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग के कार्यालय पर पीने के पानी की समस्या को लेकर रोष प्रदर्शन किया गया। इस मौके पर ग्रामीणों ने विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसके पश्चात ग्रामीणों ने अपनी विभिन्न मांगों का एक ज्ञापन विभाग के एसडीओ कुलदीप कोहाड़ को सौंपा। अखिल भारतीय खेत मजदूर यूनियन के जिला प्रधान मिया सिंह बिठमड़ा ने कहा कि गांव बिठमड़ा के ग्रामीणों को पर्याप्त पेयजल नहीं मिल पा रहा है। वहीं धानक मोहल्ला में पिछले 6 माह से पीने के लिए दूषित पानी मिल रहा है। वाटर सप्लाई के पाईप लाइन टूटे पड़े हैं। दूषित पानी हर समय टैंकों में जमा रहता है। इन तमाम समस्याओं को लेकर ग्रामीण कई बार प्रशासनिक अधिकारियों से मिल चुके हैं लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नहीं हुआ है। ग्रामीणों ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि जल्द समस्या का समाधान नहीं हुआ तो वे आंदोलन करने पर मजबूर होंगे। इस अवसर पर ईश्वर सिंह एडवोकेट, रामपाल, सुरेश कुमार पेंटर, जिंदर पाल सिंह, प्रदीप कुमार, जिले सिंह, सतपाल सिंह, बलराज सिंह आदि ग्रामीण मौजूद रहे।

1 सप्ताह में समाधान कर दिया जाएगा : एसडीओ

जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग के एसडीओ कुलदीप कोहाड़ ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि एक सप्ताह में समस्या का समाधान कर दिया जाएगा। बाद में ग्रामीण यह कहते हुए लौट गए कि एक सप्ताह में समाधान नहीं हुआ तो वे आंदोलन का रुख अख्तियार करेंगे।

खबरें और भी हैं...