ब्रह्माकुमारीज बहनों का भाईदूज कार्यक्रम:हमारा हर त्योहार अमूल्य व रिश्तों की मिठास से भरा : वसुधा बहन

झोझू कलां24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
क्षेत्रीय प्रभारी ब्रह्माकुमारी वसुधा बहन भाई को तिलक लगाते हुए। - Dainik Bhaskar
क्षेत्रीय प्रभारी ब्रह्माकुमारी वसुधा बहन भाई को तिलक लगाते हुए।
  • प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरी विश्वविद्यालय में भैया दूज पर हुआ कार्यक्रम

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरी विश्वविद्यालय शाखा के तत्वावधान में भाई दूज के पावन पर्व पर कार्यक्रम का आयोजन क्षेत्रीय प्रभारी ब्रह्माकुमारी वसुधा बहन की अगुवाई में किया गया। इस दौरान ब्रह्माकुमारीज बहनों द्वारा भाइयों के मस्तक पर तिलक लगाते हुए उनके लंबे जीवन व सुखी भविष्य की कामना की गई। ब्रह्माकुमारी वसुधा बहन ने कहा कि हमारा हर एक त्योहार अपने आप में अमूल्य व रिश्तों की मिठास से भरा है।

भारतीय संस्कृति की परंपराएं व विरासत अपने आप में सृष्टि के अनेक सूत्रों को समाहित करते हुए हमें सिखाती है कि मानवता व आपसी सौहार्द से बढ़कर इस जीवन में कुछ नहीं है। परमात्मा की असीम कृपा भी उसी पर बरसती है जो कि रिश्तों की महता को जानता है, इन्हें निभाने के लिए सच्चे हृदय से तत्पर रहता है। भैया दूज का यह एक तिलक मात्र नहीं है बल्कि यह तो एक बहन का अपने भाई के प्रति असीम लगाव है। एक भाई का अपनी बहन के प्रति सम्मान व हर हाल में उसे दुखों से दूर रखने के लिए लिया गया संकल्प है।

सेवा केंद्र संचालिका ब्रह्माकुमारी ज्योति बहन ने कहा कि यह पावन पर्व रूहानी स्नेह का प्रतीक सबको आत्मिक स्मृति की याद दिलाता है। पावन संबंध बहन भाई का, पवित्रता का प्रतीक आत्मिक तिलक लगा कर पावन विचारों में रहने की प्रेरणा देता है। जब तक विचारों में पवित्रता है तब तक जीवन में सुख-शांति का अनुभव होता रहता है। आओ अब कर्म करते हुए, संबंध संपर्क में आते हुए, इस पावन पर्व को जीवन में सार्थक करें, संसार से अशुद्ध, दैहिक विचारों को नष्ट करके ही सुखमय जीवन का आनंद ले सकते हैं।

खबरें और भी हैं...