पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कॉटन फैक्टरी संचालकों पर गड़बड़ी का आरोप:धरनारत किसान बोले-अब तक तुली नरमा की ट्रालियों को 55 किग्रा. प्रति ट्राली के हिसाब से नरमा वापस करे या एक लाख की लंगर पर्ची कटवाए

कालांवाली8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कालांवाली। कॉटन फैक्टरी के सामने धरना लगाकर रोष व्यक्त करते किसान व उन्हे समझाते कॉटन फैक्टरी संचालक

नरमें की तोल में गड़बड़ी करके किसानों को चपत लगाने के आरोप लगाते हुए शहर की एक कॉटन फैक्टरी के सामने किसानों का धरना दूसरे दिन भी जारी रहा। धरने के दौरान मार्केट कमेटी सचिव मेजर सिंह व सहायक सचिव हेत राम और कॉटन एसोसिएशन के प्रधान सुरेश कुमार ने किसानों और कॉटन फैक्टरी संचालकों को साथ बैठाकर मामला सुलझाने का काफी प्रयास किया। लेकिन किसान किसी बात पर नहीं आए और धरना जारी रखा।

धरने के दौरान किसान नेता गुरनाम सिंह पक्का शहीदां व बाबा गुरदीप सिंह झीड़ी ने आरोप लगाते हुए बताया कि कॉटन फैक्टरी संचालकों की ओर से नरमे के तोल में गड़बड़ी कर किसानों को लाखों रुपयों का चूना लगाया जा रहा है। कॉटन फैक्टरी और प्राइवेट धर्मकांटे के तोल में करीब 55 किलोग्राम का अंतर आ रहा है। इसके अलावा किसानों ने कॉटन फैक्टरी में अब तक तुली नरमे की ट्रालियों को 55 किलोग्राम प्रति ट्राली के हिसाब से नरमा वापिस करने या गुरुद्वारा में करीब एक लाख 10 हजार रुपये की लंगर की पर्ची कटवाने की मांग की।

जिस पर कॉटन फैक्टरी संचालकों ने कहा कि उन्होंने नरमे के तोल में कोई गड़बड़ी नहीं की है, जिस किसान को भी तोल में गड़बड़ी लग रही है। वह प्राइवेट धर्मकांटे व कॉटन फैक्टरी के कांटे पर नरमा का वजन करवा सकते है। यदि कॉटन फैक्टरी के धर्मकांटे में कोई अंतर आता है तो वे देनदार होगें। इसके अलावा उन्होंने कहा कि वे धर्म के चलते गुरुद्वारा में लंगर की पर्ची कटवाने को तैयार है।

इतनी राशि की पर्ची कटवाने को वे तैयार नहीं है। क्योंकि उन्होंने किसी प्रकार की कोई गड़बड़ी नहीं की है। किसानों की ओर से कोई बात न मानने पर मार्केट कमेटी सचिव मेजर सिंह व अन्य मार्केटिंग बोर्ड के कर्मचारी वापिस लौट गए। इस मौके पर शैलर एसोसिएशन के प्रधान संजय दानेवालिया, बोबी सिंगला, संजीव गर्ग नीटा, भोला कुरूंगावाली, टोनी बांसल, जोली बांसल, मोहित गर्ग, गोल्डी सहित कई कॉटन फैक्टरी संचालक भी मौजूद रहे।

राष्ट्रीय मजदूर किसान यूनियन ने फूंका प्रधानमंत्री का पुतला

बुधवार को गांव मांगेआना के बस स्टैंड के समीप राष्ट्रीय मजदूर किसान यूनियन के प्रधान नछत्तर सिंह मांगेआना के नेतृत्व में एकत्रित हुए किसानों ने सरकार द्वारा लागू किए गए तीनों अध्यादेशों के खिलाफ रोष जताया और प्रधानमंत्री का पुतला फूंका। किसान काला सिंह, गुरमीत सिंह, हुक्मा सिंह, निक्कू सिंह, शमशेर सिंह, गुरपाल सिंह व अन्य ने बताया कि सरकार द्वारा लागू किए गए तीनों अध्यादेश किसानों, आढ़तियों व मजदूरों के खिलाफ हैं। इन तीनों अध्यादेशों को रद्द किया जाए। प्रधान नछत्तर सिंह मांगेआना ने कहा कि यदि सरकार ने तीनों कानूनों को रद्द नहीं किया तो वह आंदोलन को ओर तेज कर देंगे जिसकी जिम्मेवारी सरकार व प्रशासन की होगी।

काले कानून के खिलाफ किसानों के संघर्ष में कांग्रेस मजबूती से उनके साथ खड़ी: राठौड़

कांग्रेस किसान खेत मजदूर विंग के प्रदेश सचिव भूपेंद्र सिंह राठौड़ ने कहा कि केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकारें स्वयं को किसान हितैषी होने के बड़े बड़े दावे तो करती है लेकिन सत्यता इसके विपरीत है। देश भर में किसान काले कानून के खिलाफ सड़कों पर हैं। किसानों का आंदोलन दिनोंदिन विशाल रूप लेता जा रहा है। वे गांवों में जनसंपर्क अभियान दौरान लोगों को संबोधित कर रहे थे। अब काले कानून के खिलाफ जारी किसानों के संघर्ष में कांग्रेस पूरी मजबूती से उनके साथ खड़ी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें