पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुलिस की कार्रवाई:ट्रांसफार्मर चुराने वाला गिरोह काबू, 83 वारदातें कबूलीं

कालांवाली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ट्रांसफार्मर चोरी करने वाले अंतर राज्य गिरोह के चार सदस्य गिरफ्तार। - Dainik Bhaskar
ट्रांसफार्मर चोरी करने वाले अंतर राज्य गिरोह के चार सदस्य गिरफ्तार।
  • एसपी ने सीआईए को सौंपी जांच तो 2 साल बाद कालांवाली सीआईए के हत्थे चढ़ा गिरोह

सीआईए कालांवाली पुलिस ने पिछले दो साल से बिजली निगम के लिए सिरदर्द बने ट्रांसफार्मरों की चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है। पुलिस ने ट्रांसफार्मरों से कीमती पुर्जे चुराने की 83 वारदातों की गुत्थी सुलझा दी है। मामले में पुलिस ने चार लोगों को काबू किया है, जोकि अंतर राज्य गिरोह संचालित करते थे।

पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के कब्जा से वारदात में प्रयुक्त दो गाडिय़ां व काफी मात्रा में औजार बरामद किए है। उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान त्रिलोक सिंह पुत्र माछी सिंह, सुखदेव सिहं उर्फ राजू पुत्र जंगीर सिंह निवासियान रावला मंडी राजस्थान, मांगे लाल पुत्र हंसराज व सुखविंद्र सिंह उर्फ सोनू पुत्र जगदीश निवासियान घड़साना जिला गंगानगर के रुप में हुई है। उन्होंने बताया कि सिरसा जिला के डववाली, कालांवाली, ओढ़ा व नाथूसरी चौपटा क्षेत्रों में पिछले कई महीनों से ट्रांसफार्मर चोरी की घटनाएं घटित हो रही थी।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए सीआईए कालांवाली व डबवाली की पुलिस टीमों का गठन कर चोरी की इन घटनाओं को सुलझाने के निर्देश दिए गए थे। उन्‍होंने बताया कि सीआईए कालांवाली प्रभारी उप निरीक्षक राजपाल के नेतृत्व में गठित टीम जिसमें सहायक उप निरीक्षक अवतार सिंह, मदन, रामफल व अन्य पुलिस कर्मी शामिल थे। इस टीम ने महत्वपूर्ण सुराग जुटाते हुए आरोपियों को काबू कर लिया । गिरोह ने निगम को भी करीब 50 लाख से अधिक का आर्थिक रूप से नुकसान पहुंचाया है।

इलेक्ट्रिशियन डिप्लोमा होल्डर त्रिलोक है मास्टर माइंड

राजस्थान के रावलामंडी निवासी त्रिलोक सिंह इस गिरोह का मास्टर माइंड है। यह गिरोह एक बार पहले भी ट्रांसफार्मर चोरी में पकड़ा जा चुका है। राजस्थान से ही चोरी की वारदातें शुरू की थी। त्रिलोक सिंह इलेक्ट्रिशियन डिप्लोमा होल्डर है। वह नई दिल्ली में इलेक्ट्रॉनिक कंपनी में काम कर चुका है। वहां से ही उसे आइडिया आया। फिर उसने गिरोह बना लिया।

इसी दौरान एक बार बार अग्रोहा क्षेत्र में वारदात करके गाड़ी में चले ही थे। तब इनका एक्सीडेंट हो गया था। जिसमें दो साथियों की मौत भी हो गई थी। उसमें त्रिलोक और एक अन्य साथी घायल हो गए थे। फिर कुछ दिन वारदातें रोक दी थी। अब दो साल से ये लोग नए साथी जोड़कर फिर सक्रिय थे।

7 ट्रांसफार्मर में सेंधमारी मामले में भी एफआईआर

चोरों द्वारा बिजली के ट्रांसफार्मरों से कीमती पुर्जे चोरी करके बेचे जा रहे है, जिसके कारण किसान व विद्युत निगम के कर्मचारी परेशान है। विद्युत निगम डबवाली के एसडीओ युगांक जैन की ओर से पुलिस में 5 गांवों से 7 ट्रांसफार्मरों में की गई सेंधमारी का मामला दर्ज करवाया गया है।

शिकायत में बताया अज्ञात लोगों ने जंगीर पुत्र बुधराम नीलियांवाली, जगदीप पुत्र बलदेव निवासी हैबूआना, रमनदीप पुत्र कंवरजीत निवासी मौजगढ़,इकबाल पुत्र जंगीर सिंह निवासी मौजगढ़, ऊषा पत्नी ज्ञानचंद निवासी सूखेराखेड़ा, पूर्णचंद पुत्र धोलूराम निवासी सुखेराखेड़ा, फूलाराम निवासी रामपुरा माजरा के खेत में स्थित बिजली के ट्रांसफार्मरों से पुर्जे चुरा लिए है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

    और पढ़ें