तैयारियों में जुटे कर्मचारी:22 को राजकीय महाविद्यालय में नैक की टीम करेगी दौरा, कॉलेज को ग्रेड देगी टीम

नारनौंद9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राष्ट्रीय मूल्यांकन व प्रत्यायन परिषद (नैक) की टीम 22 व 23 मार्च को राजकीय कॉलेज का दौरा करके कॉलेज को ग्रेड देगी। इसके लिए कॉलेज के कर्मचारी पूरी तैयारी करने में जुटे हुए हैं। नैक विश्वविद्यालय अनुदान (यूजीसी) की स्वायत संस्था है। जो देश के सभी उच्च शिक्षण संस्थानों को उपलब्ध विभिन्न प्रकार की सुविधाओं की मात्रा एवं गुणवत्ता के आधार पर ग्रेडिंग प्रदान करती है। यह ग्रेड पांच वर्षों के लिए मान्य होते हैं।

इसी ग्रेड के आधार पर उच्च शिक्षण संस्थाओं को राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान के अंतर्गत अनुदान दिया जाता है। पहले यह अनुदान विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा दिया जाता था। अब वर्तमान में यूजीसी द्वारा राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान के माध्यम से केवल उन शिक्षण संस्थानों को ही अनुदान दिया जाता है। जिन्हें नैक द्वारा मूल्यांकन करवाकर ग्रेड प्राप्त कर लिया है। जिस महाविद्यालय को जितनी अच्छी ग्रेड मिलती है।

अनुदान की मात्रा उतनी ही अधिक होती है। ताकि कॉलेज में विद्यार्थियों के लिए अधिक से अधिक सुविधाएं जुटाई जा सकें। राजकीय महाविद्यालय में नैक समिति संयोजिका नेहा रानी ने बताया कि सभी तैयारियां जोर शोर से हो रही हैं। कॉलेज का पूरा स्टाफ इन की तैयारी करने में जुटा हुआ है। कॉलेज के प्राचार्य डॉ. रजनीश बहल ने बताया कि नैक टीम कॉलेज के विद्यार्थियों, पूर्व छात्रों और उनके अभिभावकों से भी बातचीत करेगी और उसी आधार पर कॉलेज को ग्रेड प्रदान करेगी। कॉलेज में काफी सुविधाएं हैं।

उन्होंने बताया कि साइंस ब्लॉक, स्पोर्ट्स ग्राउंड, लाइब्रेरी, स्मार्ट क्लासरूम, कंप्यूटर लैब, हाई स्पीड लीज लाइन इत्यादि सुविधाओं सहित कॉलेज में और भी काफी सुविधाएं हैं। हमें विश्वास है कि नैक टीम हमारे द्वारा किए गए कार्यों से संतुष्ट होगी।

सात पैमानों पर होगा मूल्यांकन

नैक द्वारा महाविद्यालय का मूल्यांकन निम्न सात पैमानों के आधार पर किया जाएगा पाठ्यक्रम के 100 अंक, शिक्षण अधिगम 350, अनुसंधान नवाचार विस्तार 110 अंक, बुनियादी सुविधाएं व अध्ययन संस्थान 100 अंक, विद्यार्थी की सहायता व प्रगति 140 अंक, शासन नेतृत्व एवं प्रबंधन 100 अंक, संस्थागत मूल्य व सर्वोत्तम प्रथाएं 100 अंक, इस प्रकार कुल एक हजार अंकों में से महाविद्यालय में उपलब्ध सुविधाओं का मूल्यांकन करके अंक प्रदान किए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...