पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना वायरस:1329 आशा वर्कर पल्स ऑक्सीमीटर से लैस घर-घर ऑक्सीजन जांच करेंगी रोगी की पहचान

हिसार10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिसार | सिविल अस्पताल स्थित सोसायटी सभागार में पल्स ऑक्सीमीटर का प्रशिक्षण लेतीं आशा वर्कर।
  • संक्रमितों की मौत का एक कारण शरीर में ऑक्सीजन की कमी भी

कोरोना संक्रमण से अभी तक 34 रोगियों की मौत हो चुकी है। इनमें से काफी रोगी फेफड़ों के डैमेज होने पर शरीर में ऑक्सीजन की कमी से ग्रस्त हुए थे। यह उनकी मौत के कारणों में से एक रहा। इस तरह ऑक्सीजन की कमी से शरीर पर पड़ने वाले दुष्प्रभावों पर नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कड़ा कदम उठाया है। जिले की 1329 आशा वर्करों के जरिए नागरिकों में ऑक्सीजन का स्तर जांचने के लिए सर्वे करवाया जाएगा।

इसके लिए सभी वर्कर को एक-एक प्लस ऑक्सी मीटर मुहैया करवाए हैं जिससे घर-घर जाकर नागरिकों में ऑक्सीजन की मात्रा जांचेंगी। इस दौरान किसी में ऑक्सीजन कम है तो तुरंत इलाज के लिए सरकारी अस्पतालों में रेफर करेंगी। लक्षण के अनुसार कोविड जांच भी होगी, ताकि संक्रमित मिलने से पूर्व ही ऑक्सीजन की कमी को पूरा कर दिया जाए।

बता दें कि मंगलवार को सिविल अस्पताल के सोसायटी स्थित सभागार में आशा वर्करों को सर्वे की जानकारी देते हुए पल्स ऑक्सी मीटर के प्रयोग बारे प्रशिक्षण दिया है। आशा कोर्डिनेटर जगत बिसला ने बताया कि ऑक्सीजन की कमी वाले नागरिकों का पता लगाने के लिए सर्वे होगा।

संक्रमण यूं करता है फेफड़े डैमेज

कोरोना का सीधा असर फेफड़ों पर पड़ता है। वायरस से फेफड़ों में खून के धब्बे बनने लगते हैं जिससे धीरे-धीरे फेफड़े काम करना बंद कर देते हैं। फेफड़ों से ब्लड के साथ ऑक्सीजन हमारे शरीर में सप्लाई होती है। अगर फेफड़े डैमेज होंगे तो ऑक्सीजन की कमी शरीर में होगी। इससे विभिन्न अंगों पर दुष्प्रभाव पड़ता है जोकि निष्क्रिय होने लगते हैं। इसलिए किसी के शरीर में अगर ऑक्सीजन की कमी है तो उसका पता लगाना जरूरी है।

95 प्लस सैचुरेशन सही, कम है तो चिंतनीय

पल्स ऑक्सी मीटर के जरिए शरीर में ऑक्सीजन का स्तर या सैचुरेशन फीसद में मापा जाता है। अगर 95 प्लस सैचुरेशन है तो ठीक लेकिन इससे 95 प्लस से कम है तो चिंतनीय है। ऐसे लोगों को सचेत होने की जरूरत है। तुरंत अपनी स्वास्थ्य जांच करवाकर ऑक्सीजन की कमी का पता लगाकर इलाज करवाना चाहिए। अगर ऑक्सीजन की कमी होगी तो रोगी हाइपोक्सिया की स्टेज में जा सकता है, जोकि घातक हो सकती है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप भावनात्मक रूप से सशक्त रहेंगे। ज्ञानवर्धक तथा रोचक कार्यों में समय व्यतीत होगा। परिवार के साथ धार्मिक स्थल पर जाने का भी प्रोग्राम बनेगा। आप अपने व्यक्तित्व में सकारात्मक रूप से परिवर्तन भ...

और पढ़ें