पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • After Six Months, The Schools Opened But If The Schools Did Not Call, Then The Parents Did Not Give Permission To Anyone, Only A Few Students Arrived, The Teachers Are Still Waiting For The Kovid Test.

कोरोना काल में कैंपस का हाल:छह महीने बाद खुले स्कूल मगर कहीं स्कूलों ने नहीं बुलाया तो किसी को पेरेंट्स ने नहीं दी परमिशन, इक्का-दुक्का स्टूडेंट्स ही पहुंचे, टीचर्स को अभी कोविड टेस्ट का इंतजार

हिसारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गेट पर सैनेटाइजर, स्क्रीनिंग, दूरी के लिए गोल दायरे, 9वीं से 12वीं तक के बच्चों को डाउट्स क्लियर करने का परमिशन

(ज्योति अरोड़ा) स्कूलों में डाउट सेशन के लिए विद्यार्थियों व शिक्षकों को पहुंचने की भले ही अनुमति मिल चुकी हो मगर अभिभावक बच्चों को स्कूल भेजने में अभी खास रुचि नहीं दिखा रहे। ऐसे में सोमवार को ज्यादातर स्कूलों में परामर्श के लिए अभिभावक व बच्चे नहीं पहुंचे।
वहीं कुछ स्कूलों ने विद्यार्थियों के डाउट क्लियर करने व प्रैक्टिकल कंप्लीट करने के लिए ऑनलाइन एक्स्ट्रा क्लास लगाई। ताकि स्कूल में अभिभावक व बच्चे न पहुंचे। बड़ा सवाल है वह अब तक स्कूलों में पूरे स्टाफ के कोविड टेस्ट नहीं हुए है। हालांकि सरकारी स्कूलों में सोमवार को 50 प्रतिशत स्टाफ का कोविड टेस्ट करवाया गया है लेकिन अभी तक पूरे स्टाफ के नही हो पाए है। ऐसे में स्कूल में विद्यार्थी सोमवार को पहुंचते भी तो उनकी सुरक्षा के लिए जिम्मेदार किसे ठहराया जाएगा।

सेंट सोफिया सीनियर सेकंडरी स्कूल
सेक्टर 15 स्थित सेंट सोफिया सीनियर सेकंडरी स्कूल में नौवीं से बाहरवीं की डाउट क्लासेज शुरू की है। प्राचार्या वर्षा राणा ने बताया कि अभी केवल एक प्रतिशत अभिभावकों के अनुमति पत्र जमा हुए हैं।

जानिए... शहर के स्कूलों में क्या रही स्थिति... सरकारी स्कूलों में तीन दिन में सभी का होगा कोविड टेस्ट

विद्या देवी जिंदल सीसे स्कूल
स्कूल प्रिंसिपल शालिनी ने बताया कि बोर्डिंग स्कूल होने के कारण विद्यार्थी अलग-अलग क्षेत्रों से हैं जिसके कारण स्कूल में आने की परमिशन नहीं दी गई है। यदि किसी विद्यार्थी को किसी प्रकार की सहायता या परामर्श की जरूरत होती है तो वह स्कूल स्टाफ से कॉन्टेक्ट कर अॉनलाइन या फोन पर उसे दूर कर सकता है।

विश्वास सीनियर सेकंडरी स्कूल
प्रिंसिपल ने बताया कि अभी तक टीचर्स के कोविड टेस्ट को लेकर सही तरीके से कुछ स्पष्ट नहीं हो पाया है, ऐसे में हमारी ओर से अभी स्कूल में स्टूडेंट्स को नहीं बुलाया जा रहा।

प्रिसिडियम पब्लिक स्कूल
प्रिंसिपल निशी भट्टनागर ने बताया कि स्कूल में अभी अभिभावकों व विद्यार्थियों को बुलाए जाने पर मनाही है। इस समय में बच्चे घर पर रहे तो अधिक सुरक्षित है। स्कूल द्वारा बच्चों के डाउट समय-समय पर दूर किए जाते रहे हैं। जिसके लिए एक एक्स्ट्रा लाइव क्लास भी लगाई जाती है। अभिभावकों द्वारा राय ली गई तो वे भी स्कूल न खोले जाने के पक्ष में रहे। सोमवार को कोई नहीं पहुंचा।

सेंट कबीर स्कूल
प्रिंसिपल नीरू मेहतानी ने बताया कि स्कूल में स्टूडेंट्स को तभी बुलाया जाएगा जब सभी टीचर्स का कोविड-19 का टेस्ट हो जाएगा।

गवर्नमेंट सीनियर सेकंडरी स्कूल, मॉडल टाउन
स्कूल के प्रोफेसर डॉ. कपूर सिंह लोहान ने बताया कि सोमवार कोई विद्यार्थी को नहीं आने दिया। स्कूल स्टाफ के 50 प्रतिशत सदस्य सोमवार को कोविड टेस्ट करवाकर आए हैं। बाकि स्टाफ का टेस्ट एक-दो दिन में कराया जाएगा।

ठाकुरदास भार्गव सीनियर सेकंडरी स्कूल
स्कूल के प्रिंसिपल डॉ. करुनेश चंद्र चतुर्वेदी ने बताया कि स्टाफ का कोविड टेस्ट करवाने के लिए सीएमओ को पत्र लिखा है। जब तक टेस्ट नहीं होता तब तक विद्यार्थी नहीं बुलाया।

सुरक्षा के इंतजाम

  • अभिभावकों से लिखित अनुमति लेनी होगी
  • स्कूल गेट पर स्क्रीनिंग और हाथों को सेनिटाज करने का इंतजाम।
  • कुछ स्कूल मास्क भी उपलब्ध करा रहे।

न्यू यशोदा पब्लिक स्कूल
प्रिंसिपल लिलिमा मैथ्यू ने बताया कि स्कूल में सीबीएसई कम्पार्टमेंट का परीक्षा केंद्र बनने के कारण स्कूल में अन्य विद्यार्थियों या अभिभावकों को आने की अनुमति नहीं है। इसलिए स्कूल में विद्यार्थियों के डाउट्स क्लियर करने को लेकर बुलाए जाने की कोई तैयारी नहीं है। इसके साथ ही जब तक स्कूल पूरी तरह नहीं खुल जाते तब तक विद्यार्थियों के डाउट ऑनलाइन ही सॉल्व किए जा रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें