राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार:कोथ कलां गांव में करंट से एयरफोर्स के जवान की मौत, चचेरे भाई की शादी में शामिल होने छुट्‌टी पर आया था

नारनौंद8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तिरंगे में लिपटा सैनिक अनिल का शव व सलामी देते एयरफोर्स के जवान। - Dainik Bhaskar
तिरंगे में लिपटा सैनिक अनिल का शव व सलामी देते एयरफोर्स के जवान।

कोथ कलां गांव में एयरफोर्स के एक जवान की बिजली का करंट लगने से मौत हो गई। जवान के शव का सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। कोथकलां निवासी अनिल श्योराण एयरफोर्स में सिपाही के पद पर आसाम के डिबरूगढ़ में तैनात थे। वह अपने ताऊ के बेटे की शादी में हिस्सा लेने के लिए छुट्टी पर आए हुए थे।

परिजनों द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार उन्हें 13 मार्च को वापस ड्यूटी पर लौटना था। वह ताऊ व भाई के साथ गेहूं की फसल में पानी लगवाने के लिए उनके साथ खेत में चले गए। जब ताऊ ट्यूबवेल चलाने के लिए बिजली के तारों की सेटिंग कर रहे थे तो अनिल का हाथ बिजली की नंगी तार को छू गया। हाथ लगते ही वह बिजली की तार से चिपक गए। ताऊ ने किसी तरीके से उन्हें तार से अलग किया। तब तक वह बेहोश हो चुके थे।

परिजनों द्वारा उपचार के लिए उन्हें जींद के नागरिक अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल पहुंचने से पहले ही उन्होंने दम तोड़ दिया। जवानों द्वारा राजकीय सम्मान के साथ उनके शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया। सेना के जवानों ने सलामी दी। अनिल सरपंच चांदीराम के भाई के पौत्र थे। वह दो भाई थे। छोटा भाई सुनील और पिता राजबीर खेती करते हैं। अनिल की अभी शादी होनी बाकी थी। उनका रिश्ता जींद जिले के शामलो में तय किया हुआ था।

खबरें और भी हैं...