• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Angry Farmers Blocked The Ramayana Toll During The Day, Stopped Traffic For About 5 Hours, Sat On A Dharna By Putting Up A Tent In Front Of Narnaund Police Station At 8.30 Pm

किसानों में रोष:नाराज किसानों ने दिन में रामायण टोल पर जाम लगा करीब 5 घंटे रोका ट्रैफिक, रात 8.30 बजे नारनौंद थाने के सामने टेंट लगाकर धरने पर बैठे

हिसार/नारनौंदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नारनौंद के घटनाक्रम को लेकर किसानों ने हिसार दिल्ली हाईवे रामायण टोल प्लाजा पर जाम लगा दिया। - Dainik Bhaskar
नारनौंद के घटनाक्रम को लेकर किसानों ने हिसार दिल्ली हाईवे रामायण टोल प्लाजा पर जाम लगा दिया।
  • टोल पर जाम लगने से वाहन चालकों काे गांवों के रास्ते से निकलना पड़ा, शनिवार सुबह 11 बजे थाने में किसान संगठन करेंगे मीटिंग
  • धर्मशाला की आधारशिला रखने पहुंचे सांसद का विरोध

नारनौंद के वार्ड 1 में जांगड़ा समाज की धर्मशाला की आधारशिला रखने पहुंचे भाजपा के राज्यसभा सदस्य रामचंद्र जांगड़ा का किसानों ने विरोध किया। इस दौरान पुलिस ने 2 किसानों को हिरासत में ले लिया। देर शाम पुलिस ने उन्हें निजी मुचलके पर रिहा कर दिया। किसान यूनियन के नेताओं ने घोषणा की कि मुकदमा वापस न लिए जाने तक धरना जारी रखा जाएगा।

इसी घटनाक्रम को लेकर किसानों ने दिन में रामायण टोल पर जाम लगा दिया। जिसके बाद करीब पांच घंटे तक हाईवे पर वाहनों की लाइन लग गई। वाहन चालक गांवों के रास्ते से निकलना पड़ा। शुक्रवार रात 8.30 बजे किसानों ने धरना जारी रखने के लिए थाने में टेंट गाढ़ दिया। देर रात तक भी किसान धरने पर डटे रहे। किसान नेताओं ने बताया कि शनिवार सुबह 11 बजे थाने में किसान संगठन मीटिंग कर आगे की रणनीति पर विचार करेंगे।

घायल किसान की पत्नी ने कहा-पहले ऐसी चोट नहीं लगी कि वे बोल भी न पाएं

शादी के 20 साल हो चुके हैं। मेरे पति करीब 11 माह से किसान आंदोलन में सक्रिय हैं। चोट तो पहले भी लगती रही है लेकिन ऐसी चोट नहीं लगी कि वे बोल भी न पाएं। पुलिस झूठ बोल रही है। उन्हें मिर्गी के दौरे नहीं आते हैं। दिमाग में अंदरूनी गंभीर चोटें लगी हैं। मैं उनसे 2 बार मिलने अस्पताल पहुंची थी लेकिन वे होश में नहीं है। हमारे तीन बच्चे हैं। मेरा पति कुलदीप ही घर चलाता है। इनके पिता व भाई का निधन हो चुका है।'' -जैसा कि किसान कुलदीप की पत्नी सरोज ने बताया।

मिर्गी का दौरा थोड़ी देर के लिए आता है लेकिन मामा कुलदीप की दिमाग की नस फटने से अंदर रक्तस्त्राव हुआ है। हालत काफी गंभीर है। 11 बजे तक ऑपरेशन चलेगा, जिसके बाद हालत का पता चला।'' -जैसा कि किसान कुलदीप के भांजे संदीप ने बताया।

वहीं जिंदल अस्पताल के एमडी डॉ. शेखर सिन्हा ने कहा हम पेशेंट की मेडिकल रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...