• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Approval Is Necessary For Marriage Ceremony, Only 50 People Will Be Able To Attend Cremation And 100 People In Other Programs

कोरोना गाईडलाइन:विवाह समारोह के लिए मंजूरी जरूरी, दाह संस्कार में 50 व अन्य कार्यक्रमों में 100 व्यक्ति ही हो सकेंगे शामिल

हिसार19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लघु सचिवालय के सभागार में डीसी डॉ. प्रियंका सोनी सभी इंसीडेंट कमांडरों व एसएचओ को दिशा-निर्देश देती हुईं। - Dainik Bhaskar
लघु सचिवालय के सभागार में डीसी डॉ. प्रियंका सोनी सभी इंसीडेंट कमांडरों व एसएचओ को दिशा-निर्देश देती हुईं।
  • बिना मास्क पहने व्यक्ति पर 500 रुपए और बिना वैक्सीनेशन वाले संस्थानों पर लगेगा 5 हजार रुपए का जुर्माना
  • पहली डोज लगवा चुके हैं और दूसरी लंबित है तो मिलेगा प्रवेश

कोरोना की तीसरी लहर पर नियंत्रण के लिए जिला प्रशासन धीरे-धीरे सख्ती का दायरा बढ़ाने लगा है। ऐसे में शादी समारोह का आयोजन करनेेे से पहले प्रशासनिक अनुमति लेनी होगी। दाह संस्कार में 50 और अन्य कार्यक्रमों में 100 से ज्यादा लोगों को शामिल नहीं किया जा सकेगा। बिना मास्क घूमने वाले लोगों का चालान काटकर 500 रुपए जुर्माना वसूला जाएगा। बिना वैक्सीनेट नागरिक मिले तो संबंधित संस्थान पर 5 हजार रूपये का जुर्माना भी लगाया जाएगा।

उन लोगों को राहत जरूर मिली है जिन्होंने पहली डोज लगवा रखी है और दूसरी लंबित है। ये चालान से तो बचेंगे साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर आ-जा सकेंगे। बता दें कि महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा के तहत इन तमामा आदेशों की सख्ती से पालना के लिए डीसी डॉ. प्रियंका सोनी ने नियुक्त इंसीडेंट कमांडर व एसएचओ की बैठकर लेकर दिशा-निर्देश दिए। इसमें डीआइजी बलवान सिंह राणा, हांसी की एसपी नितिका गहलोत, डीएसपी प्रियांशु दीवान, जोगिंद्र शर्मा, विनोद शंकर, नारायण चंद, राजबीर सैनी सहित सभी एसएचओ व इंसीडेंट कमांडर भी उपस्थित थे।

आदेशों की पालना नहीं होने पर इंसीडेंट कमांडर व थाना प्रभारी होंगे जिम्मेदार

नियमित चेकिंग करके एक्शन लें
इंसीडेंट कमांडर व एसएचओ अपने-अपने एरिया के अंतर्गत आने वाले सार्वजनिक स्थानों पर नियमित रूप से चेकिंग करेंेंगे। बिना मास्क व बिना वैक्सीनेट वाले लोगों के सार्वजनिक स्थानों पर आवागमन पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। सार्वजनिक स्थानों में बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, होटल, रेस्टोरेंट, राशन की दुकानें, रसोई गैस सेंटर, पेट्रोल पंप, सब्जीमंडी, बाजार, मॉल, शॉपिंग कॉम्पलेक्स, सिनेमा हाल, पार्क, योगशाला, जिम, सरकारी तथा प्राइवेट बैंक, शिक्षण संस्थान, धार्मिक स्थल, सरकारी कार्यालय आदि शामिल हैं। संबंधित क्षेत्र में किसी प्रकार की अवहेलना पाए जाने पर इंसीडेंट कमांडर व एसएचओ जिम्मेदार होंगे।

नाइट कर्फ्यू रात 11 से 5 बजे तक: डीआइजी
डीआईजी बलवान सिंह राणा ने कहा कि किसी व्यक्ति की तबीयत खराब है तो वह शीघ्र अस्पताल में जाकर इलाज करवाए। जिले के सभी नागरिकों से अनुरोध है कि संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के दृष्टिगत निर्धारित मापदंडों का पूरी तरह से पालन करें। रात्रि कर्फ्यू का टाइम रात 11 से सुबह 5 बजे तक निर्धारित किया है। कोई भी व्यक्ति कर्फ्यू की उल्लंघना करता मिला तो उसका भी चालान किया जाएगा।

कर्मचारी ढिलाई न बरतें: एसपी हांसी
हांसी की एसपी नितिका गहलोत ने कहा कि महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा के दृष्टिगत राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा जारी किए निर्देशों की पूरी तरह से पालना की जाए। विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी इस कार्य में किसी भी प्रकार की ढि़लाई न बरतें। निर्धारित मापदंडों की अवहेलना करने वाले व्यक्तियों को अधिक से अधिक चालान किए जाएं तथा इसकी रिपोर्ट प्रतिदिन भेजनी सुनिश्चित की जाए।

कोविड प्रबंधन की इन्हें सौंपी जिम्मेदारी

  • सभी एसडीएम को अपने अधीनस्थ क्षेत्रों में वैक्सीनेशन कार्यक्रम, सैंपलिंग, होम आइसोलेशन, कंटेनमेंट जोन तथा कंट्रोल कक्ष स्थापित करने सहित विभिन्न कार्यों की निगरानी करने की जिम्मेवारी सौंपी है।
  • नगर निगम की संयुक्त आयुक्त बेलिना लोहान को कोविड-19 का डाटा पोर्टल पर अपलोड करने, आरोग्य सेतू ऐप, मेडिकल बुलेटिन रिपोर्ट, चालान रिपोर्ट, सेंपल टेस्टिंग सहित विभिन्न कार्यों का समुचित ढंग से प्रबंध करने की जिम्मेदारी।
  • राज्य कृषि विपणन बोर्ड के जोनल एडमिनिस्ट्रेटर अश्विर नैन को सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थानों में ऑक्सीजन बैड, आईसीयू बेड, होम आइसोलेशन किट, वेंटिलेटर का प्रबंध करने तथा ऑक्सीजन ओडिट सहित अनेक कार्यों की जिम्मेदारी।
  • हुडा के संपदा अधिकारी प्रीतपाल को एंबुलेंस प्रबंधन, रोगियों के यातायात की व्यवस्था, सैंपलिंग एवं टेस्टिंग का डाटा अपलोड करने की जिम्मेदारी।
  • नगर निगम के सीईओ रमन शर्मा को शहरी क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन व सैनिटाइजेशन का प्रबंध करने, अधीक्षक अभियंता यशवीर पंवार को ग्रामीण क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन व सैनिटाइजेशन की व्यवस्था।
  • जिला राजस्व अधिकारी बृजेंद्र भारद्वाज को ऑक्सीजन एवं दवाइयों का प्रबंध करने की जिम्मेदारी दी गई है।
  • जिला मुख्यालय पर स्थापित कंट्रोल रूम के लिए सूचना विज्ञान अधिकारी एमपी कुलश्रेष्ठ की ड्यूटी लगाई है।
  • नगराधीश विजया मलिक की आवश्यक सामान की आपूर्ति एवं प्रबंधन सहित विभिन्न कार्यों पर निगरानी हेतु ड्यूटी लगाई है।
  • जिला सूचना एवं जन संपर्क अधिकारी सुरेंद्र सैनी, मुख्यमंत्री के सुशासन सहयोगी कुस्तुब इरुकुला व अनुष्का मिश्रा को आईईसी एक्टिविटी, फेसबुक व ट्विटर हेल्पलाइन प्रबंधन की जिम्मेवारी दी है।
खबरें और भी हैं...