चुनावी हार पर छलका सोनाली फौगाट का दर्द:बोलीं- मैं पैसा किस-किस को दूं, विधायक होती तो जेब से पैसा निकालकर लगा देती

हिसार5 महीने पहले

भाजपा नेता कुलदीप बिश्नोई और सोनाली फौगाट की गुरुवार को पहली बार मुलाकात हुई। इस मुलाकात के बाद सोनाली ने आदमपुर एरिया के गांवों में समस्याएं भी सुनीं। सोनाली ने जलभराव की समस्या को देखते हुए ग्रामीण से पूछा कि वोट किसको दिया तो उसने जवाब दिया कि कुलदीप को वोट डाली थी। तब सोनाली ने कोई टिप्पणी नहीं की।

इसके बाद सोनाली के समक्ष ग्रामीणों ने ट्रांसफार्मर की समस्या रखी तो सोनाली ने कहा कि MP कोटे से ही मदद हो जाती है। पर मैं क्या करूं, मेरे पास तो पैसा नहीं है। मैं पैसा किस किस को दूं। मैं विधायक होती तो अपनी जेब से पैसे निकाल सकती थी। अब MP कोटे से पैसा आ सकता है। आप पहले आ जाते तो MP साहिब से रिकवेस्ट कर लेते।

सोनाली ने कहा कि मैं चाहती हूं कि आदमपुर विधानसभा में कोई ऐसा घर न रहे, जहां जलभराव हो। मैं कोशिश करूंगी। आप लोगों को आना पड़ेगा, क्योंकि जो सामने दिखता है, उसका काम हो जाता है।

सोनाली और कुलदीप की हुई थी मुलाकात

आदमपुर उप चुनाव को लेकर भाजपा नेता कुलदीप बिश्नोई ने सोनाली फौगाट के निवास पर जाकर मुलाकात की। दोनों ने करीब एक घंटे तक चर्चा की। इसके बाद कुलदीप ने कहा कि सोनाली के साथ कोई गिले शिकवे नहीं है। एक ही पार्टी है और हम मिलकर चुनाव लड़ेंगे।

बता दें कि आदमपुर के विकास को लेकर सोनाली खुलकर कुलदीप बिश्नोई पर तंज कसती रही है। सोनाली ने वर्ष 2019 में आदमपुर विधानसभा से भाजपा की टिकट पर कुलदीप बिश्नोई के खिलाफ चुनाव लड़ा था और वह हार गई थी।