• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Brainstorming Continues On Three Names In Congress, Pawan Beniwal Is Ahead In The Race But The Party's Formula Can Become A Hindrance In The Way Of Ticket

ऐलनाबाद उपचुनाव टिकट देने में इनेलो-BJP आगे:कांग्रेस में 3 नामों पर मंथन जारी; पवन बेनीवाल रेस में आगे, पार्टी का फॉर्मूला बन सकता है टिकट की राह में रोड़ा

हिसार9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ऐलनाबाद उपचुनाव के लिए उम्मीदवार घोषित करने में इनेलो और भाजपा ने बाजी मार ली है। इनेलो ने सबसे पहले अपना उम्मीदवार घोषित किया था। उसके बाद गुरुवार सुबह भाजपा-जजपा गठबंधन ने भी अपने उम्मीदवार की घोषणा कर दी है। दूसरी तरफ नामांकन दाखिल करने में एक दिन शेष रहने तक भी कांग्रेस उम्मीदवार को लेकर अभी तक फैसला नहीं कर पाई है। कांग्रेस की तरफ से तीन नामों पर चर्चा की जा रही है। लेकिन उम्मीद है कि भाजपा और इनेलो के उम्मीदवारों की घोषणा हो जाने के बाद अपने सबसे मजबूत उम्मीदवार को ही पार्टी चुनावी दंगल में उतारेगी। इनेलो ने तीन बार से लगातार विधायक बनते आ रहे अभय चौटाला को ही फिर से मैदान में उतारा है। वहीं भाजपा ने गोविंद कांडा पर दांव खेला है। कांग्रेस में पवन बेनीवाल, भरत सिंह बेनीवाल और कैप्टन अमरदीप सिंह सिहाग के नाम पर मंथन चल रहा है।

कांग्रेस का पुराना फॉर्मूला बन सकता है पवन बेनीवाल की राह का रोड़ा
कांग्रेस में जिन तीन नामों पर विचार चल रहा है, उनमें सबसे आगे पवन बेनीवाल का नाम है। उम्मीद जताई जा रही है कि कांग्रेस की तरफ से पवन बेनीवाल को ही टिकट मिलना तय है, लेकिन कांग्रेस का टिकट वितरण फॉर्मूला पवन की राह का रोड़ा बन सकता है। जींद और बरौदा उपचुनाव में कांग्रेस के बड़े नेता ने ऐसे किसी भी उम्मीदवार को टिकट देने से साफ मना कर दिया था, जो दूसरी पार्टी से आए हो। सूत्रों के अनुसार, टिकट वितरण की चर्चा पर राहुल गांधी ने साफ कह दिया था कि कांग्रेस किसी भी दूसरी पार्टी से आए नेता को टिकट नहीं देगी। पार्टी खुद के नेता, वर्कर या वोटर को टिकट दे सकती है, लेकिन इस तरह के नेता मंजूर नहीं किए जाएंगे। अगर इस बार भी ऐलनाबाद सीट पर यह फॉर्मूला लगाया जाता है तो पवन बेनीवाल के लिए समस्या पैदा हो सकती है। क्योंकि पवन बेनिवाल लगातार दो चुनाव भाजपा की तरफ से लड़ चुके हैं और अभी हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए हैं।

देवीलाल के बड़े भाई साहब राम के पोते के नाम पर भी विचार
पवन बेनीवाल के बाद कांग्रेस के पास दो और नाम हैं। इनमें पूर्व विधायक भरत सिंह बेनीवाल व कैप्टन अमरदीप सिंह सिहाग शामिल हैं। भरत सिंह बेनीवाल कांग्रेस की तरफ से दो बार उम्मीदवार रह चुके हैं और अब लगातार तीसरी बार भी रहने की उम्मीद हैं। इसके बाद कांग्रेस के पास अमरदीप सिहाग का नाम भी प्रस्तावित है, जो चौधरी देवीलाल के बड़े भाई साहब राम के पोते हैं। ऐलनाबाद सीट पर लगातार देवीलाल के परिवार को अहमियत मिलती रही है और अमरदीप सिहाग इस कारण से यहां पर एक मजबूत उम्मीदवार बनकर उतर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...