जीजेयू के क्लर्कों का धरना:धरने के पांच दिन बीतने पर भी नहीं लिया कुलपति ने संज्ञान : मलिक

हिसारएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जीजेयू के कुलपति भवन के सामने 2009 बैच के क्लर्कों का धरना लगातार पांचवे दिन भी जारी रहा। धरने का संचालन अनीता रहेजा ने किया। धरने में मुख्य वक्ता के तौर पर जीजेयू जीवन प्रधान एवं उपकुलसचिव राजबीर मलिक ने शिरकत की। धरने को सम्बोधित करते हुए मलिक ने कहा कि पांच दिन बीतने के बावजूद कुलपति द्वारा कोई संज्ञान नहीं लिया है। जिससे कर्मचारियों में रोष है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन कर्मचारी हितों की अनदेखी कर रहा है।

प्रशासन स्तर किसी भी प्रकार का कोई ठोस व सकारात्मक कदम नहीं उठाया गया है। गौरतलब है कि 2009 बैच के क्लर्क अपनी वरिष्ठता सूची में संशोधन करवाने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं। कर्मचारियों का कहना है कि उन्हें पदोन्नति में भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। जिस कारण उन्हें आर्थिक व मानसिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

विश्वविद्यालय के 2006 बैच के लैब सहायकों ने भी धरने पर पहुंचकर अपना समर्थन दिया। उन्होंने कुलसचिव को ज्ञापन देकर अपनी वरिष्ठता सूची को विश्वविद्यालय के नियमानुसार बनाने की मांग भी की। धरने के दौरान कोरोना के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग के पालन का ध्यान रखा गया। इस मौके पर सतीश कौशिक, दलबीर सिंह, मुकेश गर्ग, विनोद गुलाटी, संदीप झूरिया, अनीश कुण्डू और नरेश दलाल उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...