पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हरियाणा में मानसून ने बढ़ाई किसानों की परेशानी:21 तक अच्छी बारिश का अलर्ट; फसल खराब होने की आशंका, सामान्य से 21% ज्यादा बरस चुका है पानी

हिसार5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

इस बार मानसून सीजन में सितंबर तक लगातार हो रही बारिश के कारण किसानों की चिंताएं बढ़ने लगी हैं। लगातार नम मौसम के कारण फसलों में गलन शुरू हो गई, जबकि 21 सितंबर तक अच्छी बारिश होने का अलर्ट जारी कर दिया गया है। मौसम विभाग के अनुसार, 18 से 21 सितंबर तक हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है। सितंबर माह में लगातार हो रही बारिश के कारण कपास पैदा करने वाले किसानों का काफी नुकसान झेलना पड़ा है। हिसार के कई एरिया और फतेहाबाद जिले में भी बारिश के कारण नुकसान हुआ है। किसानों ने खराब फसलों की स्पेशल गिरदावरी करवाकर मुआवजा देने की मांग भी प्रशासन से की है।

भूना एरिया में बारिश के पानी में डूबी फसल।
भूना एरिया में बारिश के पानी में डूबी फसल।

हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय की तरफ से जारी मौसम अनुमान के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में बने एक कम दबाब के क्षेत्र व साथ में राजस्थान के ऊपर एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बनने तथा टर्फ रेखा दक्षिण में आने से मानसूनी हवाओं की सक्रियता बढ़ेगी। इससे हरियाणा राज्य में पिछले एक सप्ताह से बीच-बीच में ज्यादातर स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई है। प्रदेश में 1 जून से 14 सितम्बर तक 505.7 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है है, जो सामान्य बारिश (418.8मिलीमीटर) से 21 प्रतिशत अधिक हुई है। अब दोबारा से बंगाल की खाड़ी में एक और कम दबाब के क्षेत्र बनने के लगा है।

अरब सागर से भी नमी वाली हवाएं आने की संभावना से हरियाणा राज्य में मौसम बदलाव होगा। इस प्रभाव के कारण 21 सितम्बर तक मौसम परिवर्तनशील रहने व अगले तीन-चार दिनों में उत्तर व दक्षिण हरियाणा में कहीं-कहीं तथा पश्चिमी हरियाणा में कुछ एक स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है। 18 सितम्बर से 21 सितम्बर के बीच राज्य के ज्यादातर क्षेत्रों में हवाएं चल सकती हैं व गरज चमक के साथ बारिश होने की संभावना है। इस दौरान कुछ एक स्थानों पर तेज बारिश भी संभावित है।

बारिश से पार्क में भरा पानी।
बारिश से पार्क में भरा पानी।
खबरें और भी हैं...