पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मनाेहर-2 सरकार:एक साल से शहर में नहीं आए मुख्यमंत्री, हवाई अड्डे से वापस लाैट गए

हिसारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीएम मनोहर लाल (फाइल फोटो)
  • कभी भाजपा पर हमलावर रहे विपक्षी दलाें के विधायक और नेता सीएम के साथ

भाजपा सरकार की दूसरी पारी का एक साल पूरा हाे गया है। लेकिन पता नहीं ऐसी क्या नाराजगी है कि मुख्यमंत्री मनाेहर लाल इस एक साल के दाैरान शहर के भीतरी हिस्से में किसी कार्यक्रम में नहीं अाए। राजनीतिक हलकाें में इस बात पर अचरज किया जा रहा कि पिछली सरकार के दाैरान मुख्यमंत्री प्रत्येक माह हिसार का रूख कर लेते थे। कभी-कभी ताे महीने में दाे बार भी हिसार शहर का चक्कर लगा जाते थे।

नाइट स्टे के दाैरान स्थानीय नेताओं के चर्चा भी करते थे। यह ज्ञात है कि पिछले साल 2019 में 21 अक्टूबर काे विधानसभा चुनाव हुए थे। 24 काे परिणाम घाेषित हुए और मुख्यमंत्री मनाेहर लाल ने 26 अक्टूबर काे शपथ ली थी। भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार का एक साल पूरा हाेने पर मुख्यमंत्री ने 27 अक्टूबर काे हिसार-बरवाला मार्ग पर शहर से 4 किलाेमीटर दूर कार्यक्रम में 3 घंटे से ज्यादा का समय दिया।

हवाई अड्डे पर लंच लेकर सीएम दाेपहर बाद हवाई अड्डा से ही डिप्टी सीएम दुष्यंत चाैटाला व सीएम विंडाे की जिम्मेदारी संभाल रहे अनिल राव के साथ दिल्ली के उड़ान भर गए। भाजपा से जुड़े कार्यकर्ताओं ने दबी जुबा से नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अब ताे उनकी पूछ ही खत्म हाे गई।

एक साल पहले था हिसार से खास लगाव संघ कार्यालय में प्रचारक भी रहे हैं

सीएम मनाेहर लाल पिछली पारी में 5 साल तक मुख्यमंत्री रहे। उनका हिसार से खास लगाव सभी जानते हैं। कभी 1990 से लेकर 1995 तक मनाेहर लाल पारिजात चाैक स्थित अारएसएस कार्यालय में बताैर विभाग प्रचारक भी रहे थे। उस समय आरएसएस नेता माेहन लाल लाहाैरिया बताैर कार्यालय व्यवस्था प्रमुख थे। मनाेहर लाल ने कई बार अपने भाषणाें में कहा भी है कि वह हिसार की गली-गली में घूमे हुए हैं। अब दूसरी बार सीएम बनने के बाद गली ताे वही मनाेहर लाल हिसार शहर काे एक तरह से ही भूल सा गए हैं।

सवा साल पहले तक थे विराेधी दलों में आज मनाेहर लाल के साथ डाली आहूति

गत कार्यकाल की बात करें ताे इनेलाे, जजपा और कांग्रेस सभी सत्तापक्ष भाजपा पर हमलावर हाेती थीं। उस समय डिप्टी स्पीकर रणवीर गंगवा व अनूप धानक इनेलाे से विधायक थे। वहीं विनाेद भ्याणा कांग्रेस के सदस्य थे। बाद में इनेलाे से अलग हुए जजपा प्रमुख दुष्यंत चाैटाला भी चुनावी सभाओं में भाजपा के खिलाफ जमकर गुस्सा उगलते थे। वैसे ताे मेयर गाैतम सरदाना भी कुलदीप की पुरानी पार्टी हजकां से कई सालाें तक जुड़े रहे और चुनाव भी लड़ा था। समय, हालात और स्थिति बदली ताे आज ये सभी उक्त नेता सीएम मनाेहर के आस-पास बैठकर हवन में साथ-साथ आहूति डालते नजर आए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें