पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • City Dwellers Have Planted More Than 4500 Plants, They Will Be Taken Care Of, They Will Get 24.75 Lakh Liters Of Oxygen Daily.

विश्व पर्यावरण दिवस:शहरवासियाें ने 4500 से ज्यादा पाैधे लगाए, इनकी केयर हाेगी ताे राेजाना 24.75 लाख लीटर ऑक्सीजन मिलेगी

हिसार6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिसार. शनिवार काे विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया। मनुष्य के लिए ही नहीं बल्कि अन्य जीव जंतुओं के लिए भी पेड़ अति आवश्यक हैं। शहर से दूर गांधी नगर गांव के कैमरी राेड पर भरी दुपहरी में एक पेड़ की छांव का अासरा लिए गायाें का झुंड। फोटो: रॉकी कुमार - Dainik Bhaskar
हिसार. शनिवार काे विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया। मनुष्य के लिए ही नहीं बल्कि अन्य जीव जंतुओं के लिए भी पेड़ अति आवश्यक हैं। शहर से दूर गांधी नगर गांव के कैमरी राेड पर भरी दुपहरी में एक पेड़ की छांव का अासरा लिए गायाें का झुंड। फोटो: रॉकी कुमार

1. 4500 से ज्यादा पाैधे शहरवासियाें ने विश्व पर्यावरण दिवस पर शनिवार काे अलग-अलग स्थानाें पर लगाए गए। किसी ने व्यक्तिगत ताैर पर ताे 50 से ज्यादा संस्थाओं ने मिलकर पाैधाराेपण किया है। 2. 550 लीटर ऑक्सीजन जनरेट हाेती है एक पाैधे से। इसी आंकलन के हिसाब से 4500 पाैधे अगर पेड़ बन जाएं यानी इनकी अच्छी तरह से केयर की जाए ताे ये पेड़ हर राेज 24.75 लाख लीटर ऑक्सीजन हर राेज मिलेगी। 3. शहर में हरियाली बढ़ेगी ताे तापमान भी कम रहेगा। पाॅल्यूशन कम हाेगा। हर व्यक्ति काे ये सुनिश्चित करना चाहिए कि वह जाे भी पाैधा लगाए जब तक वह बड़ा न हाे जाए उसकी देखभाल की जिम्मेदारी उठाएं।

भास्कर अपील

काेराेना काल के इस दाैर में ऑक्सीजन के महत्वता का आम आदमी काे पता चल गया है। ये भी अहसास हुआ हाेगा कि ग्रीनरी कितनी जरूरी है। काेराेना काल में बहुत लाेगों ने अपनाें की ही सांसें ऑक्सीजन की कमी से टूटते हुए देखी हैं। अब हम सब की जिम्मेदारी बनती है कि शहर, गांव, गल्ली-माेहल्लाें मे ऐसे स्थान अथवा जगह चिह्नित करें जहां पाैधे लगाए जा सकें।

इन जगहाें पर खुद पाैधे लगाएं और लगवाएं तथा उनकी देखभाल की जिम्मेदारी लें। इस संबंध में अगर आपके पास काेई विचार है या काेई आइडिया है ताे हिसार भास्कर की मेल आईडी hisardainikbhaskar@gmail.comपर साझा करें।

खबरें और भी हैं...