बिजली उपभाेक्ताओं के लिए खुशखबरी:उपभाेक्ताओं काे गलत बिलाें से मिलेगी निजात, हेड क्वार्टर के बजाय डिविजन स्तर पर बनेंगे बिल : दास

हिसार2 महीने पहलेलेखक: महबूब अली
  • कॉपी लिंक
हरियाणा बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास  - Dainik Bhaskar
हरियाणा बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास 

हर बार गलत रीडिंग से परेशान बिजली उपभाेक्ताओं के लिए खुशखबरी है। जल्द बिजली उपभाेक्ताअाें काे गलत रीडिंग से छुटकारा मिलने जा रहा है। बिजली वितरण निगम के अधिकारियाें ने लाेगाें की लगातार मिल रही शिकायतों के आधार पर निर्णय लिया कि बिजली बिलाें काे हेड क्वार्टर के बजाय डिविजनल स्तर पर तैयार कराया जाए। यही नहीं समस्याओं का समाधान डिविजन स्तर हाे, ताकि उपभाेक्ताओं काे किसी भी तरह की परेशानी न हाे।

हिसार के विद्युत नगर में चल रही दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम की 11वीं अंतर सर्कल खेलकूद प्रतियाेगिता में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे हरियाणा बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास ने गुरुवार काे भास्कर से बातचीत की। उन्हाेंने कहा कि पिछले कुछ समय से गलत रीडिंग भेजने की शिकायतें मिल रही थी। इसकाे देखते हुए यह निर्णय लिया है। कहा कि विभाग के कर्मचारियाें का तनाव और परेशानी काे दूर करने के लिए भी सभी जिलाें के बिजली विभाग के अधिकारियाें काे दिशा निर्देश दिए गए हैं।

ग्रामीणाें से मृदु व्यवहार के साथ पेश आएं : पीके दास ने कहा कि सभी कर्मचारियाें और अधिकारियाें काे निर्देश दिए कि वह ग्रामीणाें और अन्य लाेगाें से मृदु व्यवहार के साथ पेश आएं। अब कर्मचारी मृदु व्यवहार के साथ पेश भी आ रहे हैं। अभद्रता करने वाले अधिकारी और कर्मचारियाें के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जा रही है।

बिजली चाेरी करने से बचें, याेजनाओं का लाभ लें लाेग

पीके दास का कहना है कि लाेगाें काे बिजली चाेरी से बचना चाहिए। लाेग विभाग की याेजनाओं का लाभ लें। अब 24 में से 21 घंटे से अधिक बिजली आपूर्ति हरियाणा में दी जा रही है, जाे अपने आप में रिकॉर्ड है। वित्त मंत्रालय ने भी हरियाणा से सीख लेकर अन्य राज्याें काे बिजली व्यवस्था हरियाणा की तर्ज पर लागू करने काे कहा है।

खबरें और भी हैं...