पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कर्मचारियों में आक्राेश:एचएयू के 150 गार्ड काे ठेकेदार का नाेटिस, 30 जून के बाद नई नाैकरी तलाश लें

हिसार14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नाम न छापने की शर्त पर कुछ सिक्योरिटी गार्ड ने बताया कि शनिवार काे ही उन्हें नाेटिस दिया गया। - Dainik Bhaskar
नाम न छापने की शर्त पर कुछ सिक्योरिटी गार्ड ने बताया कि शनिवार काे ही उन्हें नाेटिस दिया गया।
  • ठेकेदार बाेला, 30 जून काे खत्म हाे रहा है ठेका, इसलिए दिए कर्मचारियाें काे नाेटिस

एचएयू के 150 सिक्योरिटी गार्ड और सुपरवाइजर काे ठेकेदार ने नाेटिस जारी कर कहा है कि 30 जून काे कंपनी का ठेका खत्म हाे रहा है इसलिए सभी दूसरी जगह अपना काम, नाैकरी की तलाश शुरू कर दें। इसे एक माह का नाेटिस समझा जाएं ताकि बाद में काेई विवाद न हाे।

ठेकेदार द्वारा नाेटिस देने काे लेकर कर्मचारियाें में आक्राेश है। नाम न छापने की शर्त पर कुछ सिक्योरिटी गार्ड ने बताया कि शनिवार काे ही उन्हें नाेटिस दिया गया। कहा कि यदि उन्हें 30 जून के बाद नाैकरी से बाहर निकाल दिया जाता है ताे वह परिवार का पालन पाेषण कैसे कर सकेंगे? आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

कर्मचारियाें ने एचएयू प्रशासन से भी मामले की शिकायत करने की बात कही हैं। कहा है कि काेराेना काल में दूसरी जगह नाैकरी लगनी भी मुश्किल है। नाेटिस में यह भी लिखा है कि यदि दाेबारा से कंपनी काे ठेका मिलता है ताे भी कर्मचारियाें की भर्ती प्रक्रिया दाेबारा से की जाएगी। ठेकेदार द्वारा दिए गए नाेटिस पर कई सिक्योरिटी गार्ड ने हस्ताक्षर करने से मना कर दिया।

कर्मचारियाें काे दिए नाेटिस में यह दी चेतावनी

सभी सुरक्षा कर्मचारियाें, सुपरवाइजराें काे सूचित किया जाता है कि साइक्लाेप्स सिक्याेरिटी एवं एलाईड सर्विसेस प्रा. लि. नई दिल्ली का अनुबंध एचएयू हिसार से 30 जून 2021 काे समाप्त हाे रहा है। अत: सभी सुरक्षा कर्मचारियाें, सुपरवाइजराें काे सूचित किया जाता है कि वे अपना-अपना नया काम, नई नाैकरी की तलाश शुरू कर दें।

इसे एक महीने का नाेटिस समझा जाएं ताकि बाद में किसी भी प्रकार का काेई विवाद ना हाे। यदि साइक्लाेप्स सिक्योरिटी काे दाेबारा से ठेका हाे जाता है ताे भी सभी सुरक्षा कर्मचारियाें, सुपरवाइजराें की भर्ती प्रक्रिया दाेबारा से की जाएगी। हालांकि इस संबंध में ठेकेदार आशू का कहना है कि 30 जून काे कंपनी का ठेका खत्म हाे रहा है।

इसी कारण कर्मचारियाें काे एक माह का नाेटिस जारी किया गया है। यदि फिर से उनकी कंपनी काे ही ठेका दिया जाता है ताे पुराने कर्मचारियाें काे ही रखा जाएगा। उन्हें किसी भी तरह की परेशानी नहीं हाेने दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...