• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Dhansu Road Will Be Closed As A Hindrance In The Construction Of The Runway, The Final Plan To Close Hisar Barwala Road Will Be Made Soon

अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा मेगा प्राेजेक्ट:रन-वे के निर्माण में अड़चन बना धान्सू राेड बंद हाेगा, हिसार बरवाला राेड बंद करने काे फाइनल प्लान जल्द ही बनेगा

हिसार20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मिर्जापुर चौक के समीप से तलवंडी के पास नेशनल हाई-वे को जोड़ने वाला वैकल्पिक रोड जल्द तैयार हाेगा - Dainik Bhaskar
मिर्जापुर चौक के समीप से तलवंडी के पास नेशनल हाई-वे को जोड़ने वाला वैकल्पिक रोड जल्द तैयार हाेगा
  • मिर्जापुर चौक के समीप से तलवंडी के पास नेशनल हाई-वे को जोड़ने वाला वैकल्पिक रोड जल्द तैयार हाेगा

‘महाराजा अग्रसेन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, हिसार’ के मेगा प्राेजेक्ट काे पूरा करने काे लेकर बुधवार काे डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने चंडीगढ़ में अधिकारियाें के साथ समीक्षा बैठक की। डिप्टी सीएम ने इस प्रोजेक्ट से जुड़े अधिकारियों को आदेश दिए कि प्रोजेक्ट में पूरा करने के पीछे कोई बहानेबाजी नहीं चलेगी और अधिकारी गंभीरता से इस प्राेजेक्ट को पूरा करने के लिए दिन-रात काम करें।

बैठक में बीएंडआर के अधिकारियाें ने बताया कि हिसार-बरवाला रोड और हिसार-धान्सू रोड पर चलने वाले यातायात को जब तक बंद नहीं किया जाएगा तब तक रन-वे का काम पूरा नहीं होगा। इतना ही नहीं उन्होंने बीपीसीएल बॉटलिंग प्लांट का शिफ्ट न होना, पशुपालन विभाग द्वारा अभी तक भूमि हस्तांतरण की फाइल न भेजने सहित कई अन्य अड़चनें भी गिनवाईं।

इस रन-वे बनाने में बाधा बने हिसार-धान्सू रोड को बंद करने के आदेश दिए। अधिकारियों ने बताया कि धान्सू रोड को बंद करने के लिए हिसार-मिर्जापुर व धान्सू रोड को पहले ही चौड़ा और मजबूत कर दिया है। अधिकारियाें ने कहा कि जल्द इस राेड काे बंद किया जाएगा। इसके बाद बरवाला राेड का विकल्प तैयार हाेगा। चाैटाला ने बैठक में अधिकारियाें काे निर्माण में आने वाली रुकावटाें दूर करने के आदेश दिए।

डिप्टी सीएम के आदेश, वैकल्पिक रोड का फाइनल प्लान जल्दी तैयार करें, ताकि लोग परेशान न हों

दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि हिसार-बरवाला रोड बंद होने से लोगों को परेशानी न हो, इसके लिए मिर्जापुर चौक के समीप से तलवंडी के पास नेशनल हाई-वे को जाेड़ने वाला वैकल्पिक रोड का फाइनल-प्लान अति शीघ्र तैयार करें ताकि रोड का निर्माण कार्य शुरू हो। उन्होंने कहा कि यह वैकल्पिक सड़क इतनी चौड़ी हो कि भविष्य में भी वाहनों के दबाव सह सके। उन्होंने इसके लिए ई-भूमि के माध्यम से निजी जमीन अधिग्रहण को लेकर भी अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। वैकल्पिक रोड के लिए मिर्जापुर रोड के समीप लोक निर्माण विभाग एनएचएआई के साथ मिलकर जंक्शन भी तैयार करेगा।

तीन 132 केवी लाइन शिफ्ट करनी होंगीऋ

हवाई अड्डे के क्षेत्र से गुजरने वाली कुल तीन 132 केवी लाइन को शिफ्ट करने के प्लान पर भी बैठक में मंथन किया। विद्युत निगम के अधिकारियों ने जल्द ही इन लाइनों को नियमित अंतराल पर शिफ्ट करने की बात की। हवाई अड्डे में 24 घंटे बिजली आपूर्ति के लिए 33 केवी स्टेशन के निर्माण की मंजूरी दी गई। बजट का प्रावधान कर दिया है जो टेंडर जारी होने के बाद दस माह में पूरा होगा।

बाल सुधार गृह काे खाली करा डिमाेलिश की जाएगी बिल्डिंग

बैठक में अधिकारियाें ने बताया कि हिसार के बाल सुधार गृह को खाली करवाने संबंधी सभी औपचारिकताएं पूरी हो चुकी हैं। डिप्टी सीएम ने जल्द इसे आगामी एक सप्ताह में खाली करवा कर इसे गिराने की कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इन बाल सुधार गृह में रहने वाले बच्चों को अम्बाला और फरीदाबाद शिफ्ट किया जाएगा। वहीं इस दौरान गाेशाला माइनर की तीन चैनल बंद करने, नंदीशाला को अन्य जगह शिफ्ट करने, बीपीसीएल प्लांट को यहां से दूसरी जगह शिफ्ट करने की रिपोर्ट भी ली गई।

पशुपालन विभाग की जमीन हस्तांतरण की फाइल जल्द करें तैयार

बैठक में हिसार हवाई अड्डे को हस्तांतरित होने वाली पशुपालन विभाग की जमीन को लेकर भी डिप्टी सीएम ने अधिकारियों से जवाब तलबी की। पशुपालन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि केंद्रीय फार्म को लीज पर दी गई जमीन को विभाग ने वापस ले लिया है। डिप्टी सीएम ने अधिकारियों को जल्द इस जमीन के हस्तांतरण की प्रक्रिया को अतिशीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। यदि कोई बाधा तो हो आला अधिकारियों का सूचित कर इसे दूर किया जाए।

जल निकासी का फुल प्रूफ करें प्लान तैयार

दुष्यंत चौटाला ने अधिकारियों को कहा कि वे ‘’महाराजा अग्रसेन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा, हिसार का निर्माण 7200 हेक्टेयर में होने जा रहा है, ऐसे में इतने विस्तृत क्षेत्र के लिए जल निकासी के लिए अधिकारी अभी से मेगा ड्रेनेज प्लान तैयार करें जिससे आने वाले 50 वर्षो में भी जल निकासी की कोई समस्या न हो। ड्रेनेज सिस्टम फुल प्रूफ होना चाहिए, ताकि दिल्ली व मुंबई की तरह हिसार की हवाई पट्टी पर पानी ठहरने की नौबत न आए। हवाई अड्डे में पेयजल व अन्य जल की आपूर्ति के लिए नहरी विभाग व जन-स्वास्थ्य विभाग को आपस में समन्वय कर वाटर चैनल बनाएं जिससे कि हवाई अड्डे पर जल की किल्लत न हो।

खबरें और भी हैं...